Are you the publisher? Claim or contact us about this channel


Embed this content in your HTML

Search

Report adult content:

click to rate:

Account: (login)

More Channels


Channel Catalog


Channel Description:

This is my Real Life Story: Troubled Galaxy Destroyed Dreams. It is hightime that I should share my life with you all. So that something may be done to save this Galaxy. Please write to: bangasanskriti.sahityasammilani@gmail.comThis Blog is all about Black Untouchables,Indigenous, Aboriginal People worldwide, Refugees, Persecuted nationalities, Minorities and golbal RESISTANCE.

older | 1 | .... | 227 | 228 | (Page 229) | 230 | 231 | .... | 303 | newer

    0 0


    No to ‪#‎Modi‬ at ‪#‎10DowningStreet‬

    देखो तुम्हारा ईश्वर तो रोज़ मर रहा है...फंदे पर लटकते इस ईश्वर को कौन बचाएगा..

    The Milli Gazette's photo.

    The Milli Gazette with Minhajul Abedin and Halim Khan.

    13 hrs·

    No to ‪#‎Modi‬ at ‪#‎10DowningStreet‬

    मनुस्मृति का नस्ली नरसंहारी, यह राजकाज सिर्फ जमींदारियों और रियासतों के मालिकान के वंशजों के वर्चस्व के लिए!

    बनियों की सरकार किसानों के बाद खुदरा कारोबार के सफाये में लगी और एफडीआई से बिजनेस और इंडस्ट्री का भी सत्यानाश,क्योंकि मुनाफावसूली सिर्फ महाजिन्न के मालिकान करेंगे!

    मारे जायेंगे आम लोग, अल्पसंख्यक, दलित,पिछड़े,आदिवासी बहुजन गैरहिंदू तो मारे जायेंगे आम सवर्ण भी!


    न ब्राह्मण बचेंगे,न राजपूत और भूमिहार!

    जो बजरंगी मौत की दस्तक से अब्दुल्ला दीवाना है!

    Knock! Knock!Knock!. नी करी दी हालो हमरी निलामी, नी करी दी हालो हमरो हलाल।

    https://youtu.be/UiAP7vFfe-c

    पलाश विश्वास


    PICTURES: Parliament Square protest as Indian PM Modi arrives in London

    Vast numbers of Sikhs, Kashmiris and Indian Christians will also be protesting tomorrow at Wembley Stadium against Prime Minister Modi and his policies.

    LONDON24.COM|BY NAOMI ACKERMAN




    देखो तुम्हारा ईश्वर तो रोज़ मर रहा है...फंदे पर लटकते इस ईश्वर को कौन बचाएगा..

    हमारे युवा रंगकर्मी जनकृति के संपादक कुमार गौरव ने यह रपट हमें टैग किया जो गौरतलब हैः


    मैं राष्ट्रवादी हूँ

    क्यूंकि

    मेरे घर नहीं जलाए गए

    मेरे परिवार की इज्जत चौराहों पर उछली नहीं

    मैं फुटपाथ पर नहीं सोता

    मैने कभी मौसम की मार से फंदे को हार नहीं समझा

    कोई गोली मेरे सीने को नहीं चिरी

    कभी मुझे रोटी सपने में नहीं दिखाई दी

    मेरी आँखें अब कुछ नहीं देखती

    मेरा ईश्वर तो मंदिरों में चैन की नींद सो रहा है

    मैं मौन हूँ

    मैं जानता हूँ , आखिर मेरा कुछ नहीं होगा

    मेरा राष्ट्र जो मुझसे लिपटा है

    ................................................कुमार........................

    बंद करो यह बकवास मुद्दे...कांग्रेस ने देश को गर्त में डाला तुम आग में डाल दो...60 साल से सर में दर्द था तुम 60 महीनों में सर ही गायब कर देना.

    तुम जितना हिंदू-मुस्लिम करोगे..इतिहास के गड़े मुर्दे उखाडोगे उतना जनता तुम्हे उखाड़ेगी....यथार्थ यह है कि जो देश का विकास चाहता है उसको तुम्हारी हिन्दुत्ववादी राजनीति कचरा लगती है...जिस देश के किसान आत्महत्या कर रहे हो, आधी जनता गरीबी से नीचे जी रही हो युवा अपने भविष्य को लेकर सशंकित हो वहां की सरकार हिन्दू-मुस्लिम, गाय गोबर, जातिवाद इन्ही मुद्दे में फंसी हुई है.


    यह कोई साजिश नहीं कर रहे सरकार..यह उसी राष्ट्र का हिस्सा है जिसका बखान हम विदेशी जमीन पर करते हैं...जिस राष्ट्र में अन्नदाता आत्महत्या करने पर मजबूर है क्या उस राष्ट्र पर गर्व किया जाए..शर्म तो इस बात पर आती है कि ऐसे गंभीर मुद्दे को छोड़ हम धार्मिक झंडों की लड़ाई लड़ते हैं...कोई बता सकता है कि यह किस धर्म के हैं...यह तो किसी पार्टी विशेष के भी नहीं. इनके समक्ष बस सत्ता बदली है जिसने इसके लिए केवल मरने के अलावा कोई रास्ता नहीं छोड़ा...

    हमारे देश में तथाकथित अन्नदाता को ईश्वर की संज्ञा दी गई है देख लीजिये आप यह है हमारा स्वर्णिम राष्ट्र जहां ईश्वर आत्मह्त्या करता है...जहाँ ईश्वर पूंजीपतियों एवं नेताओं के राज में मरने पर मजबूर है...

    हाँ एक बार ओर गर्व से कहो हम विकसित है और पूरे विश्व में खोखली ताकत का ढिंढोरा पिटो.

    BBC HindiPalash BiswasAshutosh KumarPankaj ChaturvediAk PankajSunil Kumar 'suman'Dilip C MandalDwarika Prasad Agrawal


    किसानों की आत्महत्या के मामलों में महाराष्ट्र ने तोड़े सभी रिकॉर्ड

    किसानों की आत्महत्या के मामलों में महाराष्ट्र ने इस साल नया रिकॉर्ड कायम किया है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले सभी रिकॉर्ड्स को तोड़ते हुए इस साल महाराष्ट्र में अभी तक कुल 2,016 किसानों ने आत्महत्या की है. साल 2014 में यह आंकड़ा 1949 था.

    INKHABAR.COM

    Indian Express Reports:Narendra Modi in UK: The supporter at Wembley, the protester at 10, Downing

    Correa sees the PM as the "harbinger of hope", Grover is clear that Modi should be made "accountable" for his past.

    Bina Correa, 44, is an enthusiastic supporter who is head of liaison with the performers who will showcase their talent at the Wembley Stadium.

    READ: Modi image on Westminster: British MP raises issue in House, NGO says it got idea from 3D hologram campaign

    Suresh Grover, 61, is a social activist who is leading the efforts to protest against Modi outside 10, Downing Street, over the Gujarat riots.

    Modi in UK, Modi not welcome, Modi not welcome in uk, modi uk visit 2015, narendra modi uk visit, pm modi uk visit, modi visit to uk, uk visit narendra modi, modi uk visit today, narendra modi wembley,Bina Correa sees PM Modi as 'harbinger of hope'

    Correa, who works as an analyst in London, has been working for the last three weeks to ensure that about 300 children, who are part of the 650 performers at Wembley Stadium, are well looked after.

    Modi in UK, Modi not welcome, Modi not welcome in uk, modi uk visit 2015, narendra modi uk visit, pm modi uk visit, modi visit to uk, uk visit narendra modi, modi uk visit today, narendra modi wembley,PM Narendra Modi's supporters outside 10, Downing Street in London on Thursday. (Source: Reuters)

    She came to the UK when she was a two-year-old, but has relatives in Baroda. "I don't live in India, but I have my family there. So what Modi does impacts my family. He is an influential figure whose decisions can impact them, their lives. So it's my duty to do my bit to make Modi feel welcome here," says Correa.

    Modi in UK, Modi not welcome, Modi not welcome in uk, modi uk visit 2015, narendra modi uk visit, pm modi uk visit, modi visit to uk, uk visit narendra modi, modi uk visit today, narendra modi wembley,Suresh Grover wants PM to 'be made accountable for his past'.

    On the other side of the divide is Grover, who is the director of The Monitoring Group, which has been fighting and campaigning against racial hatred, violence and human rights violations for the last four decades in the UK. As a 16-year-old, he was stabbed by what he calls "a group of skinheads". He too has family in India. Grover has campaigned against a host of issues — from racism in the UK, to protests against the Emergency as a young volunteer, then the 1984 riots (when he travelled to Trilokpuri), the Bhopal gas tragedy and all kinds of fundamentalism.

    Modi in UK, Modi not welcome, Modi not welcome in uk, modi uk visit 2015, narendra modi uk visit, pm modi uk visit, modi visit to uk, uk visit narendra modi, modi uk visit today, narendra modi wembley,PM Narendra Modi's protesters outside 10, Downing Street in London on Thursday. (Source: Reuters)

    He recalls getting calls after the Gujarat riots in 2002, and became active in providing legal aid to three British nationals who were killed in the riots. "We cannot prevent Modi from coming to the UK, since there are bilateral relations at stake. Although that's what we did in 2003. But what we want now is the acknowledgement of his acts of ommission and commission in the riots. That's what we are protesting about," he says.

    Correa sees the PM as the "harbinger of hope", Grover is clear that Modi should be made "accountable" for his past.

    Correa says it's going to be a loud welcome for Modi in Wembley Stadium, Grover wants his group's voices to be loud enough to reach Modi's ears.

    While Correa and Grover are the two faces who represent the divided Indian community in the UK, the numbers — as it seems now — are stacked in favour of Correa. Correa estimates that about 60,000 people are expected to attend the Wembley event, Grover says his supporters are going to be in "thousands, and not in hundreds".

    Grover wraps up the conversation on a cautious note. "There are a large number of people who don't see Modi becoming successful unless he severs his links with the RSS. Look at the lynching over beef, this is what is going to happen," he says.

    "We are not working for the money here. We want India to prosper under Modi," says Correa.

    Their worlds inhabit the same space in the UK, but Correa and Grover are worlds apart.

    - See more at: http://indianexpress.com/article/india/india-news-india/modi-in-uk-the-supporter-at-wembley-the-protester-at-10-downing/#sthash.bEKFEGGL.dpuf


    Ashutosh Kumar

    11 hrs·

    भारत और ब्रिटेन ने आतंकवाद से मिलजुल कर लड़ने का संकल्प लिया है . ये अलग बात है कि ब्रिटेन आतंक के बल पर दुनियावी साम्राज्य कायम करने वाला पहला देश था . उस आतंक का एक उदाहरण है जालियांवाला जनसंहार . दो बरस पहले प्रधानमंत्री डेविड कैमरन शहीदों को श्रद्धांजलि देने जालियांवाला बाग़ गए थे . लेकिन इस अपराध के लिए किसी तरह की क्षमायाचना के लिए तैयार नहीं हुए . जबकि कीनिया में 1950 में किये गये अत्याचारों के लिए ब्रिटेन ने उसी साल क्षमा माँगी .

    1857 से एक सदी पहले टीपू सुलतान ने ब्रिटिश आतंकवाद का चार बार मुकाबला किया . चौथे आंग्ल-मैसूर युद्ध में मराठे और निजाम हैदराबाद टीपू के खिलाफ अंग्रेजों की सेना में शामिल थे . उनकी इस अमूल्य सहायता के बिना अँगरेज़ जीत नहीं सकते थे . लेकिन टीपू ने समझौते की जगह शहादत का चुनाव किया . यह कहते हुए कि भेड़ बन कर हज़ार बरस जीने से अच्छा है शेर की तरह एकदिन जीना !

    'तुगलक' जैसे कालजयी नाटक के लेखक गिरीश कर्नाड ने इसी टीपू सुल्तान की 'स्वतन्त्रता सेनानी ' के रूप में प्रशंसा की थी , जिसके चलते पिछले कुछ दिनों से उनके खिलाफ धमकियों की सुनामी आ गयी है . उन्हें चेतावनी दी गयी कि उनका हाल कलबुर्गी जैसा कर दिया जाएगा . कौन नहीं जानता कि हत्यारे इस चेतावनी को अमली जमा पहना देने में सक्षम हैं . कौन नहीं जानता कि तमाम संकल्पों के होते हुए भी इस खुले आतंकवाद की रोकथाम तो दूर , उसकी निंदा तक नहीं की जाएगी .

    कर्नाड ने ठीक किया कि अपने शब्द वापस ले लिए . उन्होंने अपना सर झुका कर देश को एक और क्लबुर्गी-हत्या का मातम मनाने से बचा लिया . अगर सचमुच बचा लिया !

    'तुगलक ' नाटक का पहला वाक्य है -"देश को हो क्या गया है ?'


    Intolerance linked to PM Modi: Girish Karnad - The Economic Times

    Karnad denied he had demanded renaming of the Bengaluru airport and strongly believes there can't be any civilized debate on Tipu Sultan because of the…

    ECOTI.MS/75SXPA


    The Milli Gazette's photo.

    The Milli Gazette with Vivek Mishra and 4 others.

    Yesterday at 9:02am·


    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0
  • 11/13/15--07:20: No to ‪#‎Modi‬ at ‪#‎10DowningStreet‬ बाजारो खुश त कौन का उखाड़े सकै, त चालू आहे कत्लेआम,शांतता! के केसरिया सुनामी दरअसल एफोडीआई सुनामी बा। बाकी किस्सा एफडीआई! एफडीआई बाबा जय हो! इन्हीं आडवाणी ने तभै गोड़ धर लीन्है के बचावा उकर जो गोठ में पल रहा कल्कि अवतार ह।वहींच कल्कि अवतार टायटैनिक बाबा ह।बिरंची बाबा भी वहींच।दशावतार भयो।धर्मनाश खातिरे।भारतवर्ष भारततीर्थ विनाशे खातिरे दशावतार एफडीआई बाबा हो।जय हो। जनादेश देश बेचेक खातिर लाइसेंस बा। जो मरै सो मरै।जो जीवै सो मौज उड़ावै। जो केसरिया भयो।जी रौ सौ बरीस। बाकीर जनता फालतू ह। उकर इंतजाम खातिर दंगा फसाद चाक चौबंद। तनिको निंदा हो जाई तो जनता जनार्दन खुश। डालर जौन आवै रहै,उस पर छठ मइया की जै कि बिहारे नीतीश कुमार जनादेश के अननंतर पौंड मानसूनै बा। सत्ता तो मदहोश,बाजार डांवाडोल नइखे।मुहूर्त ठीकै बा।विपक्ष खुश हो जाई।अरबपति करोड़पति सगरे खुश। बाकीर जनता फालतू ह। के मुक्त बाजार आहे। उकर इंतजाम खातिरो दंगा फसाद चाक चौबंद। हमउ सगरे ससुरे बुरबक के लड़ैं जात पांत खातिर मरै सियासती मजहब मजहबी सियासत खातिर जी रौ जमींदारी,जी रौ रियासतो।वंश वर्चस्व जी र
  • No to ‪#‎Modi‬ at ‪#‎10DowningStreet‬

    बाजारो खुश त कौन का उखाड़े सकै, त चालू आहे कत्लेआम,शांतता!


    के केसरिया सुनामी दरअसल एफोडीआई सुनामी बा।

    बाकी किस्सा एफडीआई!

    एफडीआई बाबा जय हो!

    इन्हीं आडवाणी ने तभै गोड़ धर लीन्है के बचावा उकर जो गोठ में पल रहा कल्कि अवतार ह।वहींच कल्कि अवतार टायटैनिक बाबा ह।बिरंची बाबा भी वहींच।दशावतार भयो।धर्मनाश खातिरे।भारतवर्ष भारततीर्थ विनाशे खातिरे दशावतार एफडीआई बाबा हो।जय हो।


    जनादेश देश बेचेक खातिर लाइसेंस बा।

    जो मरै सो मरै।जो जीवै सो मौज उड़ावै।

    जो केसरिया भयो।जी रौ सौ बरीस।


    बाकीर जनता फालतू ह।

    उकर इंतजाम खातिर दंगा फसाद चाक चौबंद।


    तनिको निंदा हो जाई तो जनता जनार्दन खुश।

    डालर जौन आवै रहै,उस पर छठ मइया की जै कि बिहारे नीतीश कुमार जनादेश के अननंतर पौंड मानसूनै बा।

    सत्ता तो मदहोश,बाजार डांवाडोल नइखे।मुहूर्त ठीकै बा।विपक्ष खुश हो जाई।अरबपति करोड़पति सगरे खुश।


    बाकीर जनता फालतू ह।

    के मुक्त बाजार आहे।

    उकर इंतजाम खातिरो दंगा फसाद चाक चौबंद।

    हमउ सगरे ससुरे बुरबक के लड़ैं जात पांत खातिर

    मरै सियासती मजहब मजहबी सियासत खातिर

    जी रौ जमींदारी,जी रौ रियासतो।वंश वर्चस्व जी रौ।

    Knock! Knock!Knock!. नी करी दी हालो हमरी निलामी, नी करी दी हालो हमरो हलाल।

    https://youtu.be/UiAP7vFfe-c


    पलाश विश्वास

    लंगटा जश्न का मौक है के ग्लोबल आर्डर गदगदाये हो के महारानी के दस्तखान पर चाय क्या,मुकम्मल दावत है के एफडीआई बिरंची बाबा के वैदिकी मंत्रोच्चार से करिश्मा हुई रहे के डालरजौन आवै रहै,उस पर छठ मइया की जै कि बिहारे नीतीश कुमार जनादेश के अननंतर पौंड मानसूनै बा।नाइन बिलियन पौंड हो।विकासेविकास।


    डाउनिंग स्ट्रीट पर थोड़ बवाल रहे के दाढ़ी वूड़ी आउर पगड़ी वगड़ी पिन्हके सिखों के जख्म फिन उजागर हुई रहे तो भारत में जइसन लेखक पत्रकार फिल्मकार इतिहासकार समाजशास्त्री वगैरह वगैरह विकास और ग्रोथ को लंगड़ी मारे को चाहे,वइसन ही फिन रुश्दी की अगुवाई में बरतानिया मा दुईसौ लेखक उखक बयान असहिष्णुता के खिलापो जारी किये रहिस।बिहार को वक अप भी किये हो।


    का बिगाड़ लिहिस।वखिंगघम पैलेस मा आरण्यक सभ्यता जइसन वैदिकी शांति रही आउर जरुरी बा के हिंदुस्तानी रेसिपी का जायका भी खूबै रहै।बाकी किस्सा एफडीआई।के मुक्त बाजार बा।


    बाजार खुश।जनता उनता भुस्स।भेड़धंसान।


    पांच साल मा जब जागै,तबहुं देखब।


    असहिष्णुता आजादी बाद से जारी बा।

    त खून खराबा भी तबहिन से जारी बा।

    बिरंची बाबा का काहे को कोई दोष हो गुसाई।


    तनिको निंदा हो जाई तो जनता जनार्दन खुश?


    विरोधी आत्मा प्रसन्न भयो के जनता उनता जाये भाड़ो मा।


    जनादेश देश बेचेक खातिर लाइसेंस बा।

    जो मरै सो मरै।जो जीवै सो मौज उड़ावै।

    जो केसरिया भयो।जी रौ सौ बरीस।


    बाकीर जनता फालतू ह।

    के मुक्त बाजार आहे।

    उकर इंतजाम खातिरो दंगा फसाद चाक चौबंद।


    तनिको निंदा हो जाई तो जनता जनार्दन खुश।

    डालरजौन आवै रहै,उस पर छठ मइया की जै कि बिहारे नीतीश कुमार जनादेश के अननंतर पौंड मानसूनै बा।


    सत्ता तो मदहोश,बाजार डांवाडोल नइखे।मुहूर्त ठीकै बा।

    विपक्ष खुश हो जाई।अरबपति करोड़पति सगरे खुश।


    बाकीर जनता फालतू ह।

    उकर इंतजाम खातिरो दंगा फसाद चाक चौबंद।

    के मुक्त बाजार आहे।





    देश बेचेके खातिर ईमानदारी से मिलजुलकै धंधा अंधियारे का खूबै खूब बा।बाकी पादै बहुतै हो।उ मीडिया भी पादैपादसे गंधावै घनघोर के लंगटा जश्न हो।देश बेचेके खातिर राजनीति गोलबंद।जनता बंटी हो भौते भौत।ई हरिकथा अनंत।हरिबोल हरिबोल।हरिहरि बोल हरि।


    जइसन दीदी मोदी एको बानी के दीदी बंगाल मा राज करिहैं कोई वामपंथी उंथी मैदानो मा नइखै।आउर मोदी राज बहालो बा दिल्ली मा,हारे चाहे के बिहार हारे के बंगाल आउर यूपी।दिल्ली तो हारै ही पहिले पहल तो केजरीवाल महिषासुर भयो,उकर वध चाहि ह।


    दीदी का आर्डर हुई गवो परशांतो को घेर लिहिस,कोई माई क लाल हिलावैक हिम्मत करके देख लेवें के संसद मा विरोध दर्जकरावेक चाहि तो टीएमसी सांसद हल्ला उल्ला कत्तई ना करें,मंत्री मदना भी रिहा बाड़न।एकही केस के सांसद कुणाल जेल मा सड़ गइलन आउर खूबैखूब धार्मिक ध्रूवीकरण।मोदी जीतै तभी ना दीदी की भी जीत।मुसल्लो के डरावैक चाहि,वोट गोलबंदी खातिर बंगाल केसरिया बा।हरि बोल।नईकी शाखा ह के गीता भागवत प्रचार समिति आउरकहे यहींच वैदिकी सभ्यता।वेद नाही।


    नौटंकी वखत सब एक हो जाई।के सुधार अश्वमेध जारी कहेक चाहि।कि अबाध कारपोरेट चंदा ,फारेन फंडिंग चाहि।


    सगरा देश मांझा बाकीर किस्सा वहींच।क्षत्रप सारे गोलबंद।

    सारे जमींदार, रियासतदार, मनसबदार, किलेदार, फौजदार,सूबेदार,जिलेदार,तहसीलदार,पटवारी गोलबंद।



    हमउ सगरे ससुरे बुरबक के लड़ैं जात पांत खातिर

    मरै सियासती मजहब मजहबी सियासत खातिर

    जी रौ जमींदारी,जी रौ रियासतो।वंश वर्चस्व जी रौ।


    भारी मारामारी केकर हिस्से कित्ता कित्ता पैकेज।

    केकर हिस्से कित्ते कित्ते निउक्लिअर विध्वंस।


    केकर हिस्से कित्ते कित्ते गैस चैंबर के जनता उनता जौण फालतू बा,उके मरवाकै चाहि।


    भारी मारामारी स्मार्ट सिटिवा खातिर,स्ट्रटअप खातिर,एफडीआई खातिर।काहे को सारा दोष बिरंचा बाबा को गुसाई।संतन मा झगरा भारी।भौते मारामारी।पण मजहब सियासती एको बा।सियासती मजहब फिन खूनखराबा बा।देश बेचो एजंडा बा।बंडवारा बंटाधार।


    बाजार खुश त कौन का उखाड़े सकै त चालू आहे कत्लेआम,शांतता


    के केसरिया सुनामी दरअसल एफोडीआई सुनामी बा।


    इन्हीं आडवाणी ने तभै गोड़ धर लीन्है एक बचावा उकर जो गोठ में पल रहा कल्कि अवतार ह।वहींच कल्कि अवतार टायटैनिक बाबा ह।बिरंची बाबा भी वहींच।दशावतार भयो।धर्मनाश खातिरे।भारतवर्ष भारततीर्थ विनाशे खातिरे दशावतार एफडीआई बाबा हो।जय हो।


    अटलजी त राजधर्म निभाये को डटि रहिलन।


    आडवाणी जी वहींच,जो दश के चप्पे चप्पे मा रमारथ हांके रहे हो।कारसेवा का कहै,मस्जिद तोड़े वखते भी वहींच मौजूदे रहे जेकर खातिर गोधरा आउर फिन गुजरात बदनाम हुई रहे बाकी गुजरात वायब्रैंटवा बा।


    ओबामा बुझलन,धड़ाक से क्लीन चिटवी देई रहिस।

    कैमरुन भी बुझलन बाड़न।


    उ बीबीसी को काहे को खुजली ह के पूछ दिहिस के बिरंची बाबा विदेश दौरे पर काहे बरांबार।


    काहे और,भारत विकासे खातिर,अडाणी खातिर,अंबानी खातिर मुक्त बाजर जो वसंतबहार ह,उमा फिर सेव काउ का अरबियन स्पिंगवा घनघोर,फिन टीपू की भी गोडसे की तलवार से गरदने उड़ा दिहिस के जउन ससुरा टीपू रहे अंग्रेजन को नाकों चने एइसन चबाये रहे के नेपोलियन हिटलर जइसन माई के लाल भी फेल।


    ब्रिटिश राज की सेवा का ताजातरीन नमीना ई देखो कि आजादी की लड़ाई में गोडसे बाबा सबसे मोटा अबतारो रहे मोटाभाई कै,बाकी भगवान उगवान,साधु साध्वी,स्वयंसेवक कहीं कौनो बलिदान वलिदान किये नइखे।


    त ब्रिटिश राजेर सबसे खतरनाक दुश्मन का मोरणोपरांत ई गति जो कर दिहिस,अंग्रेज ससुरे बाग बाग हुई रहे।


    फिन हिंदुस्तान में बोल न फूट्ओ त का,खास लंदन मा सगरी दुनिया भई जौन गान्ही बाबा आउर गौतम बुधवा के नाम ले लिहिस।सात खून का,बाबरी विध्वंस माफ।


    माफ गुजरातमध्ये कत्लेआम।

    वैदिकी हिंसा हिंसा न भवति।कर्नाटक मध्ये अबहुं हिंसा की बारी।गोमाता को शायद छोड़ दिहिस,टीपूके मारेके चाहि।


    आडवाणी जो बोले ह,जो मार्गदर्शन ह,उ डैमेज कंट्रोल बा।

    बूझत नइखे,बुड़बकै बाड़न सगरै।


    आडवाणी के वरदहस्ते ई भस्मासुर ह त उको बचावै खातिर तनिको ड्राम कर दिहिस,त बगावत बुझल।

    बगावत नइखै,नौटंकी बा।

    बूझो के भामस मैदानो मा बा के उ भी एफडीआई विरोधे ह।

    बूझो, के कौण बुरबाक बाड़न।


    बूढ़ बाड़न,उनर का हउ चाहि का?


    पेइड न्यूज घनघोर बा आउर मीडिया भी अबहुं एफडीआई भइल।केसरिया सुनामी सबसे बड़का एफोडीआई।


    सो,एफडीआई बाबा की दावत मा बघिंग पैलेस मा कार्निवाल रहे के रैली उली का नजारा बिहारो रहि,जोर जायका फिन वहीं एजंडा हिंदुत्व का।मीडिया मीडिया किलै हौ लाखों गुल बहार।तोडो़ रे।


    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0

    Add us to your address book


    http://www.hastakshep.com/donate-to-hastakshep

    https://www.facebook.com/hastakshephastakshep

    https://twitter.com/HastakshepNews


    आपको यह संदश इसलिए मिला है क्योंकि आपने Google समूह के "हस्तक्षेप.कॉम" समूह की सदस्यता ली है.
    इस समूह की सदस्यता समाप्त करने और इससे ईमेल प्राप्त करना बंद करने के लिए, hastakshep+unsubscribe@googlegroups.com को ईमेल भेजें.

    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0


    Add us to your address book


    http://www.hastakshep.com/donate-to-hastakshep

    https://www.facebook.com/hastakshephastakshep

    https://twitter.com/HastakshepNews


    आपको यह संदश इसलिए मिला है क्योंकि आपने Google समूह के "हस्तक्षेप.कॉम" समूह की सदस्यता ली है.
    इस समूह की सदस्यता समाप्त करने और इससे ईमेल प्राप्त करना बंद करने के लिए, hastakshep+unsubscribe@googlegroups.com को ईमेल भेजें.
    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0
  • 11/14/15--00:14: पेरिस में मुंबई धमाके और हम भी अरबिया वंसत के शिकंजे में दुनिया ने कह दिया,हमने हिंदू तालिबान राज चुन लिया! #PARIS Struck #Mumbai Blasts and Humanity bleeds yet again!Terror might strike Any where,Any Time! Be Aware! Paris Attack | Bataclan Hostages Leave https://www.youtube.com/watch?v=aXy23tH_Z4c Paris Attack | Explosion Audible From Stade De France https://www.youtube.com/watch?v=Nsq3vTXgU7A #ModiInUK: ब्रिटिश मीडिया ने कहा- भारत में है हिंदू तालिबान का राज Hindu Taliban on the rise in India, claims UK based sculptor ... Video for Sir Anish kapoor Hindu Taliban▶ 1:56 https://www.youtube.com/watch?v=LrlqOOMWZfs 19 hours ago - Uploaded by Oneindia News An opinion piece in prominent British newspaper has observed that a Hindu Taliban was raising its head in ... Terror Strikes Mumbai on 26/11/2008 - YouTube Video for Terror strikes in Mumbai▶ 48:05 www.youtube.com/watch?v=mw0nMqaIqAo Mar 29, 2014 - Uploaded by Atul Kumar Singh Mumbai was struck by unprecedented terror strike on 26/11/
  • https://youtu.be/_loM2nH12AM






    पेरिस में मुंबई धमाके और हम भी अरबिया वंसत के शिकंजे में

    दुनिया ने कह दिया,हमने हिंदू तालिबान राज चुन लिया!


    #PARIS Struck #Mumbai Blasts and Humanity bleeds yet again!Terror might strike Any where,Any Time! Be Aware!

    Paris Attack | Bataclan Hostages Leave
    https://www.youtube.com/watch?v=aXy23tH_Z4c

    Paris Attack | Explosion Audible From Stade De France
    https://www.youtube.com/watch?v=Nsq3vTXgU7A


    #ModiInUK: ब्रिटिश मीडिया ने कहा- भारत में है हिंदू तालिबान का राज


    Hindu Taliban on the rise in India, claims UK based sculptor ...

    Video for Sir Anish kapoor Hindu Taliban▶ 1:56

    https://www.youtube.com/watch?v=LrlqOOMWZfs

    19 hours ago - Uploaded by Oneindia News

    An opinion piece in prominent British newspaper has observed that a Hindu Taliban was raising its head in ...

    Terror Strikes Mumbai on 26/11/2008 - YouTube

    Video for Terror strikes in Mumbai▶ 48:05

    www.youtube.com/watch?v=mw0nMqaIqAo

    Mar 29, 2014 - Uploaded by Atul Kumar Singh

    Mumbai was struck by unprecedented terror strike on 26/11/2008. Ajmal Kasab, the only terrorist who was ...



    Palash Biswas

    Indian Express reports:Black Friday in Paris, 120 killed

    Black Friday in Paris, 120 killed

    French officials confirmed that at least 120 people were killed following a wave of attacks across Paris. The violence started at the Bataclan concert hall where at least 100 hostages were found dead. French President Francois Hollande has formally declared a state of emergency on all mainland territory and Corsica during a Cabinet meeting urgently summoned at the Elysee palace on Friday night. "It is horror," Hollande said in a brief statement on television, adding that a cabinet meeting had been called.11th terrorist attack in western Europe in a decadeNews from Paris 'anguishing and dreadful', says PM Modi43 killed in twin suicide bombings in Beirut

    http://indianexpress.com/


    ‪#‎10DowningStreet‬

    देखो तुम्हारा ईश्वर तो रोज़ मर रहा है...फंदे पर लटकते इस ईश्वर को कौन बचाएगा.

    लंदन.तीन दिन के ब्रिटेन दौरे पर आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ब्रिटिश मीडिया में आलोचना भी हो रही है। ब्रिटिश न्यूज वेबसाइट 'द गार्डियन' के एक आर्टिकल में लिखा गया है कि भारत में 'हिंदू तालिबान' तेजी से फैल रहा है। वहां अपनी बात खुलकर बोलने वालों पर जुल्म किए जा रहे हैं। फ्रीडम ऑफ स्पीच खत्म होने और इन्टॉलरेंस बढ़ने जैसे मसलों पर मोदी का रवैया ढीला है। ब्रिटेन में इसके खिलाफ आवाज उठाई जानी चाहिए।


    बता दें कि तीन दिन के ब्रिटेन दौरे पर आए मोदी के खिलाफ यह आर्टिकल अनीश कपूर ने लिखा है। कपूर मूल रूप से मुंबई के रहने वाले हैं। वे ब्रिटेन के जाने-माने मूर्तिकार हैं। वे पहले भी विवादों में रह चुके हैं। एक बार ब्रिटेन की महारानी की आपत्तिजनक मूर्ति बनाने के आरोप में उनकी प्रदर्शनी का विरोध हो चुका है।


    आर्टिकल में लिखा- मोदी विष्णु के नए अवतार नजर आते हैं


    गार्डियन के आर्टिकल में कपूर ने लिखा है, "हिंदू भगवान विष्णु के कई अवतार थे और उनमें से ज्यादातर इंसान थे। नरेंद्र मोदी उनके नए अवतार नजर आते हैं। देश में हिंदुओं के दबदबे के कारण कई भयावह सच्चाई छिप गई हैं।


    देश की सोशल और रिलिजियस माइनॉरिटी (करीब 500 मिलियन लोग) पर गंभीर खतरा है। मोदी सरकार इन्टॉलरेंस को रोकने में पूरी तरह नाकाम रही है। अगर इस माहौल पर काबू नहीं किया गया तो इसके नतीजे खराब होंगे।


    >भारत में 'हिंदू तालिबान' तेजी से फैल रहा है। वहां अपनी बात खुलकर बोलने वाले पर जुल्म किए जा रहे हैं। पिछले महीने ही कई लेखकों ने इन्टॉलरेंस के खिलाफ अपने अवॉर्ड लौटा दिए।


    >भारत 1.25 बिलियन आबादी वाला देश है। वहां 965 मिलियन हिंदू और 170 मिलियन मुस्लिम हैं। हमने सदियों तक अत्याचार सहे हैं, लेकिन इसके बावजूद हमने भाईचारे और एकता की मिसाल पेश की है। लेकिन अगर हिंदू कट्टरता इसी तरह हावी होती रही तो यह देश के लिए खतरा बन जाएगी।


    ब्रिटेन में हम अपनी जुबान बंद नहीं रख सकते। हमें बोलने की आजादी है और यह हमारी जिम्मेदारी भी है।

    हम चाहते हैं कि डेविड कैमरन ह्यूमन राइट्स को ताक पर रखकर कोई बिजनेस डील न करें।


    हम यह भी चाहते हैं कि मोदी भारत में लेखकों, बुद्धिजीवियों, पत्रकारों और नागरिकों के खिलाफ हो रहे अत्याचारों पर खुलकर बोलें।


    इन्टॉलरेंस पर क्या बोले थे मोदी?


    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ब्रिटेन दौरे के पहले ही दिन भारत में बढ़ रही कथित इन्टॉलरेन्स की घटनाओं से जुड़े सवालों का जवाब देना पड़ा। गुरुवार को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन के साथ एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में इन्टॉलरेन्स से जुड़े सवाल पर पीएम मोदी ने कहा कि हम भारत में हुई हर घटना को गंभीरता से लेते हैं। हर नागरिक की सुरक्षा तथा उसके विचारों की अभिव्यक्ति के अधिकार की रक्षा हमारी जिम्मेदारी है। मोदी ने कहा कि देश में होने वाली हर घटना हमारे लिए गंभीर है। कानून कठोरता से कार्रवाई करता है और करेगा।


    ब्रिटेन के बाकी मीडिया ने क्या लिखा?

    1. ऐसे पीएम के लिए रेड कारपेट क्यों बिछाया जो कॉन्ट्रोवर्शियल हैं : मिरर

    >वेबसाइट 'मिरर' ने अपनी हेडलाइन में लिखा कि ब्रिटेन ऐसे प्राइम मिनिस्टर के लिए रेड कारपेट क्यों बिछा रहा है, जो कॉन्ट्रोवर्शियल हैं? आर्टिकल में गुजरात दंगों पर मोदी की इमेज को लेकर भी सवाल उठाए गए हैं। इसमें लिखा है कि जब 2002 में गुजरात में 1,000 मुस्लिमों की हत्या हुई, मोदी वहां के मुख्यमंत्री थे।

    >'मिरर' ने लिखा, "ब्रिटेन में भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी के स्वागत के लिए सैकड़ों समर्थकों ने नारे लगाए। तीन दिन के दौरे के पहले दिन मोदी 10 डाउनिंग स्ट्रीट गए और पार्लियामेंट में स्पीच भी दी। लेकिन सड़कों पर उनके विरोध में प्रदर्शन भी हो रहे थे।"


    >आर्टिकल में उन प्रदर्शन करने वालों का भी जिक्र है, जो कल सड़कों पर विरोध कर रहे थे। इसमें लिखा है कि एक प्रदर्शनकारी ने मोदी को आतंकवादी बताया, जबकि एक ने उन्हें पिछले 30 सालों में सबसे खतरनाक लीडर बताया।

    >मिरर ने लिखा, "इतनी कॉन्ट्रोवर्सी के बावजूद ब्रिटेन में मोदी के लिए रेड कारपेट क्यों बिछाया गया और उनका भव्य स्वागत किसलिए हो रहा है?"

    2. अपने देश में लोगों पर हमले रोकें मोदी : हफिंगटन पोस्ट

    >हफिंगटन पोस्ट के यूके एडिशन में एक आर्टिकल में मोदी से सिविल सोसाइटी के ऑर्गनाइजेशन्स पर हो रहे हमलों को रोकने की अपील की गई है। यह आर्टिकल ग्रीनपीस यूके के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर जॉन सुवेन और ग्रीनपीस इंडिया की एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर विनुता गोपाल ने लिखा है। इसमें कहा गया है, "यह आर्टिकल भारत में सिविल सोसाइटी ऑर्गनाइजेशन्स पर हो रहे जुल्म के खिलाफ आपका ध्यान खींचने के लिए लिखा गया है। पिछले हफ्ते मोदी सरकार के गृह मंत्रालय ने ग्रीन पीस का लीगल रजिस्ट्रेशन कैंसल कर दिया था। ग्रीनपीस और बाकी ग्रुप्स पर किए जा रहे हमले फ्रीडम ऑफ स्पीच का उल्लंघन हैं।"

    3. हिंदुत्व का आक्रामक चेहरा हैं मोदी : टेलीग्राफ

    >टेलीग्राफ ने मोदी के ब्रिटेन दौरे को लेकर लिखे आर्टिकल में पीएम की कॉन्ट्रोवर्सी का जिक्र किया। आर्टिकल में कहा गया कि मोदी हिंदुत्व का 'आक्रामक चेहरा' हैं। इसमें यह भी लिखा है कि डेविड कैमरन को गुजरात दंगों के दौरान तीन ब्रिटिश नागरिकों की मौत पर सवाल उठाना चाहिए।

    >आर्टिकल में लिखा है कि 2002 गुजरात दंगों के कारण 2012 तक मोदी पर ब्रिटेन में घुसने की मनाही थी। दंगों में मोदी का रोल होने को लेकर कॉन्ट्रोवर्सी लंबे समय से चल रही है, लेकिन ब्रिटेन सरकार ने 10 साल तक उन पर बैन लगाए रखा। ब्रिटिश अधिकारियों का मानना था कि मोदी की सरकार ने गुजरात में हिंसा रोकने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए।



    1. Five attackers dead after killing at least 150 in Paris attacks ...

    2. Video for paris attacked

    3. www.theguardian.com› World › France

    4. 3 hours ago

    5. The Paris police prefect has now confirmed that the attackers at the Bataclan rock venue blew themselves up ...

    6. Paris terror attack leaves 142 dead as hostages are killed at ...

    7. Video for paris attacked

    8. www.dailymail.co.uk/.../Machine-gun-fire-heard-centr...

    9. 8 hours ago

    10. There are reports that more than 150 people have been killed and at least seven wounded in central Paris ...

    11. At least 120 dead in Paris attacks, Hollande declares ...

    12. Video for paris attacked

    13. www.reuters.com/.../us-france-shooting-idUSKCN0T2...

    14. 16 mins ago

    15. Gunmen and bombers attacked restaurants, a concert hall and a sports stadium at locations across Paris on ...

    16. After Paris Terror Attacks, France Declares State of ...

    17. Video for paris attacked

    18. www.ndtv.com› World

    19. 45 mins ago

    20. One World Trade Center's spire is shown lit in French flags colors of white, blue and red in solidarity with ...

    21. Paris terror attacks: What we know so far about how events ...

    22. Video for paris attacked▶ 1:12

    23. www.mirror.co.uk› News › World news › Terrorism

    24. 5 hours ago

    25. At least 158 dead, 118 killed at concert, six separate attacks, two suicide bombings.

    26. Calais migrant camp 'on fire' as France reels from Paris ...

    27. Video for paris attacked▶ 0:32

    28. www.mirror.co.uk› ... › Calais migrant crisis

    29. Calais migrant camp 'on fire' as France reels from Paris terrorattacks. 01:12, 14 Nov 2015; Updated 01:59 ...

    30. Paris attack sees 150 dead after Eagles of Death Metal ...

    31. Video for paris attacked▶ 2:12

    32. www.dailymail.co.uk/.../Paris-attack-sees-150-dead-Ea...

    33. 8 hours ago

    34. There are reports that more than 150 people have been killed and at least seven wounded in central Paris ...

    35. Paris under siege: At least 120 dead in terror attacks

    36. Video for paris attacked

    37. mashable.com/2015/11/13/paris-attack-shooting/

    38. 8 hours ago

    39. At least 120 people are dead in a wave of attacks in central Parison Friday night.

    40. Terrorists slaughter at least 118 in Paris music hall, 40 ...

    41. Video for paris attacked

    42. www.foxnews.com/.../french-police-report-shootout-a...

    43. 8 hours ago

    44. The death toll in multiple Paris terror attacks rose to at least 35 late Friday while at least 100 hostages were ...

    45. Multiple Paris Terror Attacks Leave at Least 120 Dead ...

    46. Video for paris attacked

    47. www.nbcnews.com/.../paris...attacks/french-police-rep...

    48. 27 mins ago

    49. A massive series of terror attacks in and around Paris left over 120 people dead across six sites Friday ...


    As London confirmed,Sir Anish Kapur said,India opted for Hindu Taliban Raj!

    Hindu Taliban dares not to issue Fatwa whatever or restrict him as Girish Karnad is restricted! as he speaks out and British-Indian knights Anish Kapoor and Salman Rushdie voice support for artists' protests, but Mr Modi's allies accuse them of 'manufactured rebellion'!


    Mind you,Top Indian artists and scientists return awards in protest at alleged 'climate of intolerance' under Narendra Modi!Now,Indian defence veterans return medals and the Defence Minister of India asks that they should prove that are not political.The artists and scientists have accused the administration of Narendra Modi, the prime minister, of stoking Hindu nationalism and curtailing freedom of expression.



    No sense of Tense in Hindutva Hate Campaign!Thus,I wrote late last night,why does RSS launch yet another political party?


    No to‪#‎Modi‬ at‪#‎10DowningStreet‬


    बाजारो खुश त कौन का उखाड़े सकै, त चालू आहे कत्लेआम,शांतता!


    के केसरिया सुनामी दरअसल एफोडीआई सुनामी बा।

    बाकी किस्सा एफडीआई!

    एफडीआई बाबा जय हो!

    इन्हीं आडवाणी ने तभै गोड़ धर लीन्है के बचावा उकर जो गोठ में पल रहा कल्कि अवतार ह।वहींच कल्कि अवतार टायटैनिक बाबा ह।बिरंची बाबा भी वहींच।दशावतार भयो।धर्मनाश खातिरे।भारतवर्ष भारततीर्थ विनाशे खातिरे दशावतार एफडीआई बाबा हो।जय हो।


    जनादेश देश बेचेक खातिर लाइसेंस बा।

    जो मरै सो मरै।जो जीवै सो मौज उड़ावै।

    जो केसरिया भयो।जी रौ सौ बरीस।


    बाकीर जनता फालतू ह।

    उकर इंतजाम खातिर दंगा फसाद चाक चौबंद।


    तनिको निंदा हो जाई तो जनता जनार्दन खुश।

    डालर जौन आवै रहै,उस पर छठ मइया की जै कि बिहारे नीतीश कुमार जनादेश के अननंतर पौंड मानसूनै बा।

    सत्ता तो मदहोश,बाजार डांवाडोल नइखे।मुहूर्त ठीकै बा।विपक्ष खुश हो जाई।अरबपति करोड़पति सगरे खुश।


    बाकीर जनता फालतू ह।

    के मुक्त बाजार आहे।

    उकर इंतजाम खातिरो दंगा फसाद चाक चौबंद।

    हमउ सगरे ससुरे बुरबक के लड़ैं जात पांत खातिर

    मरै सियासती मजहब मजहबी सियासत खातिर

    जी रौ जमींदारी,जी रौ रियासतो।वंश वर्चस्व जी रौ।

    Knock! Knock!Knock!. नी करी दी हालो हमरी निलामी, नी करी दी हालो हमरो हलाल।

    Media reports from London:

    An opinion piece in prominent British newspaper has observed that a Hindu Taliban was raising its head in India and that the United Kingdom must oppose that. Alluding to the incidents of intolerance, the article was acutely critical of Prime Minister Narendra Modi's government.

    "We in Britain cannot bite our tongues anymore; we have a responsibility to speak out. And we need to work on at least two fronts: demand that Cameron not make business deals at the cost of human rights, and press Modi to answer for the Indian government's abysmal rights record; and recognise and support the many Indian citizens, journalists and organisations that are resisting growing Hindu fanaticism and state authoritarianism," Indian sculptor Anish Kapoor wrote for The Guardian.

    "A Hindu version of the Taliban is asserting itself, in which Indians are being told: "It's either this view – or else." A friend told me: "There is huge oppression of anyone who's different." Last month, dozens of Indian writers handed back their literary awards in protest, following communal violence against Muslims and attacks on intellectuals," the article added.

    "The Hindu god Vishnu has several incarnations, many of them human. The latest of these appears to be Narendra Modi. All over India there are images of the man, right arm raised in the benevolent gesture of good fortune. But this strong-but-enlightened-man image hides the frightening and shrill reality of an increasingly Modi-led Hindu dominance of India," he observed.

    India is the land of Buddha and Gandhi and does not accept actions against the social norms and culture, Prime Minister Narendra Modi said in London.

    Responding to the first question by a BBC reporter on "growing intolerance in India" during a joint press conference with British PM David Cameron, Modi said strict action is being taken against those indulging in such (violent) acts.

    PM said India is a democracy that's committed to freedom of speech.

    ‎"We take each incident occurring in any part of our country very seriously. Law is taking its course, strict action is being taken and we are committed on it," he added.

    The PM is constantly under attack by the Oppositon in India on incidents of communal violence in the country.

    "India protects the rights of every citizen and his/her freedom of thoughts. India is a vibrant democracy," PM said.

    Modi's comments follow widespread condemnation of the September 28 killing of a Muslim man at Dadri in Uttar Pradesh over rumours that he ate beef.

    A host of writers, artistes and film makers have in recent weeks returned their national awards in protest against what they say is rising intolerance, at times leading to murder.


    Lk Advani created the Bhasmasur whom Vajpayee wanted to put in the recycle bin!The Bhasmasur burnt the Iron Man as well the Mask reducing them to dust.Understood.No one else but Advani created this Ksaria FDI tsunami and the FDI Baba remains blue eyed boy who may kill mandates whatsoever with his market friendly governance and diplomacy which has also been reduced to business and it is the aesthetics of free market economy and the overwhelming social political economic reality combined as genocide culture!



    It might be also understood that BMS,the trade union wing of RSS Hindutva agenda want to appease the workers opposing FDI to open no less than fifteen sectors afresh.It is also the part of the game launched by Margdarshk Mandal!



    This morning I have to encounter some posters in Kolkata which is about floating yet another wing of Hindutva Brigade GEETA AVAM BHAGWAT PURAN PRACHAR SAMITI.As Sardha scam is dismissed and minister Madan Mitra is house arrested only and signs the policy making orders,Did is bailed out.


    Nevertheless TMC MP Kunal Ghosh remains behind the bar.


    DIDI Modi alliance is beyond doubt as Didi has declared to put her forces to intensify the reforms and her MPs had been directed not to obstruct the procedure in the Parliamnet.



    The Package is all about FDI,foreign investment,Nuclear plants and corridors along with smart cities.Powers haring is all about sharing the package and it is the real politics which makes no difference whether any government has the mandate or not,nor which parties do rule the states! Thus,the picture is very clear.



    But I am amused to see a latest update from down the south in Chennai while Karnatak is ablaze all on the Name of Tipu sultan and BEEF Ban is set aside after bihar mein Fir Neetishe Kumar Mandate!



    No less than a reputed Daily from Chennai breaks the news that a group of current and former RSS pracharaks has floated a new political party to work more steadfastly under the Hindutva ideology, slamming the Tamil Nadu BJP of forgetting its roots.



    Please note those who launched yet another Party,speak for RSS and they include current Pracharaks.It is not all about a break away group.



    Is RSS creating an option of BJP to make it rigid Hindutva yet again?



    Is the RSS political party launched from Chennai which never had been a base of BJP to make it a secret but institutional political wing as plan B?



    Is RSS afraid that the Bhashmasur would burn RSS itself?



    लंगटा जश्न का मौक है के ग्लोबल आर्डर गदगदाये हो के महारानी के दस्तखान पर चाय क्या,मुकम्मल दावत है के एफडीआई बिरंची बाबा के वैदिकी मंत्रोच्चार से करिश्मा हुई रहे के डालरजौन आवै रहै,उस पर छठ मइया की जै कि बिहारे नीतीश कुमार जनादेश के अननंतर पौंड मानसूनै बा।नाइन बिलियन पौंड हो।विकासेविकास।


    डाउनिंग स्ट्रीट पर थोड़ बवाल रहे के दाढ़ी वूड़ी आउर पगड़ी वगड़ी पिन्हके सिखों के जख्म फिन उजागर हुई रहे तो भारत में जइसन लेखक पत्रकार फिल्मकार इतिहासकार समाजशास्त्री वगैरह वगैरह विकास और ग्रोथ को लंगड़ी मारे को चाहे,वइसन ही फिन रुश्दी की अगुवाई में बरतानिया मा दुईसौ लेखक उखक बयान असहिष्णुता के खिलापो जारी किये रहिस।बिहार को वक अप भी किये हो।


    का बिगाड़ लिहिस।वखिंगघम पैलेस मा आरण्यक सभ्यता जइसन वैदिकी शांति रही आउर जरुरी बा के हिंदुस्तानी रेसिपी का जायका भी खूबै रहै।बाकी किस्सा एफडीआई।के मुक्त बाजार बा।


    बाजार खुश।जनता उनता भुस्स।भेड़धंसान।


    पांच साल मा जब जागै,तबहुं देखब।


    असहिष्णुता आजादी बाद से जारी बा।

    त खून खराबा भी तबहिन से जारी बा।

    बिरंची बाबा का काहे को कोई दोष हो गुसाई।


    तनिको निंदा हो जाई तो जनता जनार्दन खुश?


    विरोधी आत्मा प्रसन्न भयो के जनता उनता जाये भाड़ो मा।


    जनादेश देश बेचेक खातिर लाइसेंस बा।

    जो मरै सो मरै।जो जीवै सो मौज उड़ावै।

    जो केसरिया भयो।जी रौ सौ बरीस।


    बाकीर जनता फालतू ह।

    के मुक्त बाजार आहे।

    उकर इंतजाम खातिरो दंगा फसाद चाक चौबंद।


    तनिको निंदा हो जाई तो जनता जनार्दन खुश।

    डालरजौन आवै रहै,उस पर छठ मइया की जै कि बिहारे नीतीश कुमार जनादेश के अननंतर पौंड मानसूनै बा।


    सत्ता तो मदहोश,बाजार डांवाडोल नइखे।मुहूर्त ठीकै बा।

    विपक्ष खुश हो जाई।अरबपति करोड़पति सगरे खुश।


    बाकीर जनता फालतू ह।

    उकर इंतजाम खातिरो दंगा फसाद चाक चौबंद।

    के मुक्त बाजार आहे।





    देश बेचेके खातिर ईमानदारी से मिलजुलकै धंधा अंधियारे का खूबै खूब बा।बाकी पादै बहुतै हो।उ मीडिया भी पादैपादसे गंधावै घनघोर के लंगटा जश्न हो।देश बेचेके खातिर राजनीति गोलबंद।जनता बंटी हो भौते भौत।ई हरिकथा अनंत।हरिबोल हरिबोल।हरिहरि बोल हरि।


    जइसन दीदी मोदी एको बानी के दीदी बंगाल मा राज करिहैं कोई वामपंथी उंथी मैदानो मा नइखै।आउर मोदी राज बहालो बा दिल्ली मा,हारे चाहे के बिहार हारे के बंगाल आउर यूपी।दिल्ली तो हारै ही पहिले पहल तो केजरीवाल महिषासुर भयो,उकर वध चाहि ह।


    दीदी का आर्डर हुई गवो परशांतो को घेर लिहिस,कोई माई क लाल हिलावैक हिम्मत करके देख लेवें के संसद मा विरोध दर्जकरावेक चाहि तो टीएमसी सांसद हल्ला उल्ला कत्तई ना करें,मंत्री मदना भी रिहा बाड़न।एकही केस के सांसद कुणाल जेल मा सड़ गइलन आउर खूबैखूब धार्मिक ध्रूवीकरण।मोदी जीतै तभी ना दीदी की भी जीत।मुसल्लो के डरावैक चाहि,वोट गोलबंदी खातिर बंगाल केसरिया बा।हरि बोल।नईकी शाखा ह के गीता भागवत प्रचार समिति आउरकहे यहींच वैदिकी सभ्यता।वेद नाही।


    नौटंकी वखत सब एक हो जाई।के सुधार अश्वमेध जारी कहेक चाहि।कि अबाध कारपोरेट चंदा ,फारेन फंडिंग चाहि।


    सगरा देश मांझा बाकीर किस्सा वहींच।क्षत्रप सारे गोलबंद।

    सारे जमींदार, रियासतदार, मनसबदार, किलेदार, फौजदार,सूबेदार,जिलेदार,तहसीलदार,पटवारी गोलबंद।



    हमउ सगरे ससुरे बुरबक के लड़ैं जात पांत खातिर

    मरै सियासती मजहब मजहबी सियासत खातिर

    जी रौ जमींदारी,जी रौ रियासतो।वंश वर्चस्व जी रौ।


    भारी मारामारी केकर हिस्से कित्ता कित्ता पैकेज।

    केकर हिस्से कित्ते कित्ते निउक्लिअर विध्वंस।


    केकर हिस्से कित्ते कित्ते गैस चैंबर के जनता उनता जौण फालतू बा,उके मरवाकै चाहि।


    भारी मारामारी स्मार्ट सिटिवा खातिर,स्ट्रटअप खातिर,एफडीआई खातिर।काहे को सारा दोष बिरंचा बाबा को गुसाई।संतन मा झगरा भारी।भौते मारामारी।पण मजहब सियासती एको बा।सियासती मजहब फिन खूनखराबा बा।देश बेचो एजंडा बा।बंडवारा बंटाधार।


    बाजार खुश त कौन का उखाड़े सकै त चालू आहे कत्लेआम,शांतता


    के केसरिया सुनामी दरअसल एफोडीआई सुनामी बा।


    इन्हीं आडवाणी ने तभै गोड़ धर लीन्है एक बचावा उकर जो गोठ में पल रहा कल्कि अवतार ह।वहींच कल्कि अवतार टायटैनिक बाबा ह।बिरंची बाबा भी वहींच।दशावतार भयो।धर्मनाश खातिरे।भारतवर्ष भारततीर्थ विनाशे खातिरे दशावतार एफडीआई बाबा हो।जय हो।


    अटलजी त राजधर्म निभाये को डटि रहिलन।


    आडवाणी जी वहींच,जो दश के चप्पे चप्पे मा रमारथ हांके रहे हो।कारसेवा का कहै,मस्जिद तोड़े वखते भी वहींच मौजूदे रहे जेकर खातिर गोधरा आउर फिन गुजरात बदनाम हुई रहे बाकी गुजरात वायब्रैंटवा बा।


    ओबामा बुझलन,धड़ाक से क्लीन चिटवी देई रहिस।

    कैमरुन भी बुझलन बाड़न।


    उ बीबीसी को काहे को खुजली ह के पूछ दिहिस के बिरंची बाबा विदेश दौरे पर काहे बरांबार।


    काहे और,भारत विकासे खातिर,अडाणी खातिर,अंबानी खातिर मुक्त बाजर जो वसंतबहार ह,उमा फिर सेव काउ का अरबियन स्पिंगवा घनघोर,फिन टीपू की भी गोडसे की तलवार से गरदने उड़ा दिहिस के जउन ससुरा टीपू रहे अंग्रेजन को नाकों चने एइसन चबाये रहे के नेपोलियन हिटलर जइसन माई के लाल भी फेल।


    ब्रिटिश राज की सेवा का ताजातरीन नमीना ई देखो कि आजादी की लड़ाई में गोडसे बाबा सबसे मोटा अबतारो रहे मोटाभाई कै,बाकी भगवान उगवान,साधु साध्वी,स्वयंसेवक कहीं कौनो बलिदान वलिदान किये नइखे।


    त ब्रिटिश राजेर सबसे खतरनाक दुश्मन का मोरणोपरांत ई गति जो कर दिहिस,अंग्रेज ससुरे बाग बाग हुई रहे।


    फिन हिंदुस्तान में बोल न फूट्ओ त का,खास लंदन मा सगरी दुनिया भई जौन गान्ही बाबा आउर गौतम बुधवा के नाम ले लिहिस।सात खून का,बाबरी विध्वंस माफ।


    माफ गुजरातमध्ये कत्लेआम।

    वैदिकी हिंसा हिंसा न भवति।कर्नाटक मध्ये अबहुं हिंसा की बारी।गोमाता को शायद छोड़ दिहिस,टीपूके मारेके चाहि।


    आडवाणी जो बोले ह,जो मार्गदर्शन ह,उ डैमेज कंट्रोल बा।

    बूझत नइखे,बुड़बकै बाड़न सगरै।


    आडवाणी के वरदहस्ते ई भस्मासुर ह त उको बचावै खातिर तनिको ड्राम कर दिहिस,त बगावत बुझल।

    बगावत नइखै,नौटंकी बा।

    बूझो के भामस मैदानो मा बा के उ भी एफडीआई विरोधे ह।

    बूझो, के कौण बुरबाक बाड़न।


    बूढ़ बाड़न,उनर का हउ चाहि का?


    पेइड न्यूज घनघोर बा आउर मीडिया भी अबहुं एफडीआई भइल।केसरिया सुनामी सबसे बड़का एफोडीआई।


    सो,एफडीआई बाबा की दावत मा बघिंग पैलेस मा कार्निवाल रहे के रैली उली का नजारा बिहारो रहि,जोर जायका फिन वहीं एजंडा हिंदुत्व का।मीडिया मीडिया किलै हौ लाखों गुल बहार।तोडो़ रे।

    Anish Kapoor in India (Part 1) - YouTube

    Video for Sir Anish kapoor Hindu Taliban▶ 8:22

    www.youtube.com/watch?v=On9R-kRCV84

    Dec 21, 2010 - Uploaded by Sahar Zaman

    Independent arts journalist Sahar Zaman interviews Anish Kapoorin an ... by muslims, before the ...

    Anish Kapoor - Past Present Future 2006, Moma, Nice ...

    Video for Sir Anish kapoor Hindu Taliban▶ 0:51

    https://www.youtube.com/watch?v=2AxMZU4KUYI

    Dec 16, 2012 - Uploaded by Pietro Pecco

    Sir Anish Kapoor, CBE RA (born 12 March 1954) is an Indian sculptor. ... Anish Kapoor was born in Bombay ...

    We The People - NDTV TEAM IN NYC - NDTV Social

    Video for Sir Anish kapoor Hindu Taliban

    social.ndtv.com/wethepeople/permalink/233723

    ... think I can endure the new flood of tweets exploring Anish Kapoor's family tree. ... every Indian Citizen ...

    IAF chopper MI 17 makes emergency landing in Bandra ...

    Video for Sir Anish kapoor Hindu Taliban

    www.oneindia.com› Podcast

    Hindu Taliban on the rise in India, claims UK based sculptorAnish Kapoor· Video · Bihar poll defeat's ...

    Narendra Modi : US turns on charm as roadshow rolls into ...

    Video for Sir Anish kapoor Hindu Taliban

    www.theguardian.com› World › Narendra Modi

    Sep 29, 2014

    Speaking in Hindi, and using some phrases familiar from this year's long election .... India is being ruled by a ...


    Paris latest: Six places attacked, no clue about assailants yet

    Hindustan Times - ‎5 hours ago‎

    At least 140 people were killed in multiple attacks in Paris Friday, including at a concert venue and another near a sports stadium, officials. The apparently coordinated gun and bomb assaults, which also targeted busy restaurants and bars, came as the ...

    The Latest: Social Media Respond to Paris Attacks

    New York Times - ‎22 minutes ago‎

    Friends and relatives are using social media to search for loved ones feared to have been at the sites of the Parisattacks. "We are looking for Marie, who was at the Bataclan, we have no news from her. If you see her, please contact me #Bataclan ...

    The Latest on France Terror Attacks

    U.S. News & World Report - ‎5 hours ago‎

    The Paris police prefect said the attackers at the Bataclan rock venue blew themselves up with suicide belts as police closed in, killing four people. He said the gunmen first sprayed cafes outside the venue with machine gunfire, then went inside the ...

    Paris attacks: Bataclan and other assaults leave many dead

    BBC News - ‎3 hours ago‎

    France has declared a national state of emergency and tightened borders after at least 120 people were killed in a night of gun and bomb attacks in Paris. Eighty people were reported killed after gunmen burst into the Bataclan concert hall and took ...

    The Latest: Obama speaks to French leader

    Miami Herald - ‎3 hours ago‎

    The official says all members of Eagles of Death Metal, the California-based band that was to perform at the Parisvenue where one attack occurred, are safe and have been accounted for. The official was not authorized to discuss the briefing publicly ...

    Paris shooting: how events unfolded on social media

    Telegraph.co.uk - ‎7 hours ago‎

    ... in the "unprecedented" series of bombings and shootings. Facebook has set up a webpage for those looking to track friends and loved ones in Paris: https://www.facebook.com/safetycheck/paris_terror_attacks/. • Latestcoverage of the Paris shootings ...

    The Latest: Obama calls Paris attacks 'outrageous'

    Firstpost - ‎6 hours ago‎

    PARIS: President Barack Obama is calling the attacks on Paris"outrageous attempt to terrorize innocent civilians" and is vowing to do whatever it takes to help bring the perpetrators to justice. Speaking to reporters at the White House, Obama said he ...

    Paris attacks kill more than 120 people – as it happened

    The Guardian - ‎8 hours ago‎

    Reuters reports that the death toll from the Bataclan concert venue, where previously as many as 120 people had been reported dead, could now be 87. With around 40 others killed at other locations around Paris, this could take the overall death toll to ...

    Paris Attacks Kill More Than 100, Police Say; Border Controls Tightened

    New York Times - ‎4 hours ago‎

    PARIS— The Paris area reeled Friday night from a shooting rampage, explosions and mass hostage-taking that President François Hollande called an unprecedented terrorist attack on France. His government announced sharply increased border controls ...

    Latest developments of Paris attacks that resulted in more than 150 dead

    myfox8.com - ‎3 hours ago‎

    PARIS— On a night when thousands of Paris residents and tourists were reveling and fans were enjoying a soccer match between France and world champion Germany, horror struck in an unprecedented manner. Terrorists — some with AK-47s, some ...

    The Latest: Persian Gulf countries condemn Paris attacks

    The San Diego Union-Tribune - ‎1 hour ago‎

    PARIS (AP) — The latest on shootings and explosions in Paris. (All times local): ___. 6:25 a.m.. Across the Persian Gulf, countries are condemning the mass terror attack in Paris that killed at least 120 people. In the United Arab Emirates, the state ...

    WATCH: The Latest News from Paris

    U.S. News & World Report - ‎3 hours ago‎

    Rescuers evacuate people following an attack in the 10th arrondissement of the French capitalParis, on Nov. 13, 2015. Police also said there was an ongoing hostage crisis in the Bataclan a concert hall which was hosting a concert for American rock ...

    The latest on the shootings in Paris

    wreg.com - ‎6 hours ago‎

    Automatic gunfire and blasts have rung out from the area of a Paris music hall where police say people are being held hostage. Scores of police are surrounding the Bataclan concert hall, and sirens are wailing throughout the neighborhood. The gunfire ...

    Multiple Paris Terror Attacks Leave at Least 120 Dead

    NBCNews.com - ‎7 hours ago‎

    At least 100 people were killed at the Bataclan concert hall in Paris' 11th arrondissement, where scores of hostages had been held. Police in Paris told NBC News that several people had also been shot at a restaurant in the nearby 10th arrondissement ...

    The Latest: 100 hostages in theatre, up to 40 dead in Paris attacks

    Hamilton Spectator - ‎7 hours ago‎

    People leave the Stade de France stadium after the international friendly soccer France against Germany, Friday, Nov. 13, 2015 in Saint Denis, outside Paris. At least two explosions have been heard near the Stade de France stadium, and French media is ...

    Here is all you need to know about the Paris attacks

    Daily News & Analysis - ‎1 hour ago‎

    LATEST VIDEOS. waitress US Waitress in viral video: 'If I was nice to you, I'd get canned' · Rajang Watch: Orangutan kisses pregnant woman's belly · 11 lion cubs born in Gir Forest. We were unable to load Disqus. If you are a moderator please see our ...

    Latest: Obama calls Paris attacks 'outrageous'

    CTV News - ‎5 hours ago‎

    PARIS -- The latest on shootings and explosions in Paris. (all times local): 12:10 a.m.. A French government official says the country's state of emergency has gone into effect and that President Francois Hollande is cancelling his trip to the G-20 ...

    Latest updates on terrorist attacks in Paris

    KTNV Las Vegas - ‎5 hours ago‎

    A policeman patrols near the Boulevard des Filles-du-Calvaire after an attack November 13, 2015 inParis, France. Gunfire and explosions in multiple locations erupted in the French capital with early casualty reports indicating at least 60 dead.

    Stream France 24 Live Here for the Latest on the Paris Shootings

    Slate Magazine (blog) - ‎4 hours ago‎

    In the chaos surrounding the the shootings in Paris on Friday night, which have left scores dead around the city, the English-language station France 24 has emerged as one of the most reliable sources for the latest information about the attacks ...

    The Latest: US official unaware of chatter ahead of Paris attacks

    TBO.com - ‎2 hours ago‎

    PARIS– The latest on shootings and explosions in Paris. (all times local): 3:17 a.m.. Rep. Adam Schiff, the top Democrat on the House Permanent Select Committee on Intelligence, tells The Associated Press he was not aware of any chatter pointing to ...

    Attacks in Central Paris: Live Updates

    New York Times - ‎1 hour ago‎

    For an overview of the latest developments, see here. .... The Paris police prefect, Michel Cadot, said all the assailants directly involved in the attacks around the city were believed to be dead, though they may have had accomplices who were still at ...

    BREAKING: Dozens feared dead as Paris city centre taken under siege

    Daily Star - ‎7 hours ago‎

    The third attack, which happened at the concert hall, killed 15 citizens and 11 died in the shooting at the restaurant, it is understood. David Cameron said in a statement: "I am shocked by events inParis tonight. "Our thoughts and prayers are with ...

    The Latest: At least 100 killed inside Paris concert hall

    WSFA - ‎5 hours ago‎

    (AP Photo/Michel Euler). Los aficionados abandonan el Stade de France tras la suspensión del partido amistoso entre las selecciones de Francia y Alemania, el viernes 13 de noviembre de 2015 en Saint Denis, en las afueras de París. Las autoridades de la.

    The Latest: Hundreds at Paris stadium dazed, confused after explosions and ...

    Hamilton Spectator - ‎7 hours ago‎

    Spectators invade the pitch of the Stade de France stadium after the international friendly soccer France against Germany, Friday, Nov. 13, 2015 in Saint Denis, outside Paris, after explosions were heard. At least 35 people were killed in shootings and ...

    The Latest: World leaders express shock at Paris attacks

    SFGate - ‎6 hours ago‎

    A woman watches victims in the 10th district of Paris, Friday, Nov. 13, 2015. At least 35 people were killed Friday in shootings and explosions around Paris, many of them in a popular concert hall where ... more. Photo: Jacques Brinon, Associated Press.

    The Latest: World leaders express shock in wake of Paris attacks

    The Delaware County Daily Times - ‎5 hours ago‎

    PARIS>> — The latest on shootings and explosions in Paris. (all times are Paris-local): 11:45 p.m.. World leaders have expressed shock at the violence in Paris. German Chancellor Angela Merkel says she is "deeply shaken by the news and pictures that ...

    The Latest: As many as 120 dead in string of Paris attacks

    Amarillo.com - ‎2 hours ago‎

    People leave the Stade de France stadium after the international friendly soccer France against Germany, Friday, Nov. 13, 2015 in Saint Denis, outside Paris. Two police officials say at least 11 people have been killed in shootouts and other violence ...

    PARIS ATTACKS: 140 feared dead in latest reports

    Derbyshire Times - ‎4 hours ago‎

    "Two decisions will be taken: a state of emergency will be declared, which means that some places will be closed, traffic may be banned and there will also be searches which may be decided throughout Ile de France (greater Paris). The state of ...

    FOLLOW LIVE: Latest on Paris attacks

    WCPO - ‎6 hours ago‎

    Medical staff stand by victims in a Paris restaurant, Friday, Nov. 13, 2015. Two police officials say at least 11 people have been killed in shootouts and other violence around Paris. Police have reported shootouts in at least two restaurants in Paris...

    The Latest: U2 'devastated' by Paris attacks, cancels show

    Albuquerque Journal - ‎2 hours ago‎

    Emergency services attend the scene as victims lay on the pavement outside a Paris restaurant, Friday, Nov. 13, 2015. Police officials in France on Friday report multiple terror incidents, leaving many dead. (AP Photo/Thibault Camus) ...



    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0


    हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.com/hastakshephastakshep को लाइक करें या फेसबुक ग्रुप https://www.facebook.com/groups/152006878154073/ के सदस्य बनें अथवा ट्विटर पर https://twitter.com/mediaamalendu फॉलो करें तथा रियल टाइम अपडेट रहें।
    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0
  • 11/14/15--07:35: बिररिंची बाबा अमेरिकी युद्ध में भागेदारी का वायदा दोहरा दिया # पेरिस में # मुंबई धमाके इसीलिए की हमीं नहीं सिर्फ,सारी दुनिया अब # मजहबी सियासत के शिकंजे में हैं! इस्लामिक स्टेट का आखिरी निशाना सउदी अरब है और इस्लाम के सबसे पाक इबादतगाह भी,तो समझिये कि उसके पीछे हाथ किस किसके हैं! इस्लामिक स्टेट, अलकायदा और तालिबान भी उन्हींने पैदा किये हैं और यह भी समझ लीजिये कि वे जनक संप्रदाय भारत में भी हिंदू तालिबान पैदा करने वाले हैं मुनाफावसूली के लिए! पार्टनर हम विश्वयुद्धों के भी बने थे और खैरात में भुखमरी भी मिली थी और अब फिर खैरात तबाही है! https://youtu.be/_loM2nH12AM पेरिस में मुंबई धमाके और हम भी अरबिया वंसत के शिकंजे में दुनिया ने कह दिया,हमने हिंदू तालिबान राज चुन लिया! पलाश विश्वास

  • बिररिंची बाबा अमेरिकी युद्ध में भागेदारी का वायदा दोहरा दिया

    # पेरिस में # मुंबई धमाके इसीलिए की हमीं नहीं सिर्फ,सारी दुनिया अब # मजहबी सियासत के शिकंजे में हैं!


    इस्लामिक स्टेट का आखिरी निशाना सउदी अरब है और इस्लाम के सबसे पाक इबादतगाह भी,तो समझिये कि उसके पीछे हाथ किस किसके हैं!


    इस्लामिक स्टेट, अलकायदा और तालिबान भी उन्हींने पैदा किये हैं और यह भी समझ लीजिये कि वे जनक संप्रदाय भारत में भी हिंदू तालिबान पैदा करने वाले हैं मुनाफावसूली के लिए!


    पार्टनर हम विश्वयुद्धों के भी बने थे और खैरात में भुखमरी भी मिली थी और अब फिर खैरात तबाही है!

    https://youtu.be/_loM2nH12AM






    पेरिस में मुंबई धमाके और हम भी अरबिया वंसत के शिकंजे में

    दुनिया ने कह दिया,हमने हिंदू तालिबान राज चुन लिया!


    पलाश विश्वास

    यह भारतीय महादेश ही नहीं,सारी दुनिया अब मजहबी सियासत, सियासती मजहब के शिकंजे में हैं।


    हर राष्ट्र अब धर्मराष्ट्र है और धर्म कर्म विशुध कारोबार अंधियारा का।पेरिस में मुंबई धमाकों की गूंज से शुक्रवार की रात जो तबाही मची,सियासती मजहब को मुक्त बाजार की मुनाफावसूली में तब्दील करने वाली वैश्विक व्यवस्था ने उसका बंदोबस्त दुनिया के चप्पे चप्पे में कर लिया है।


    यह प्रलय है।जो सृष्टि के नाश के लिए है।मनुष्यता और सभ्यता और प्रकृति के महाविनाश का आयोजन है यह।


    हमारे लाड़ले मसखरे की तरह मसखरई करते रहने के बजाय इस महासंकट से बचने के लिए सबसे पहले हिंदू तालिबान बनने से बचने के लिए जो भी कर सकते हैं,फौरी कार्यभार के तहत वह पहले कीजिये।जोखिम उठाकर बी जीने की जुगत कीजिये।


    कीजिये,करते रहिए।वरान उत्तेजक मीडिया जिंदाबाद है सौजन्य एफडीआई बाबा को मले देश बेचो लाइसेंस।क्योंकि यह देश जमींदारों और रियासतदारों के कब्जे में हैं और हम बेदखल हैं।


    बेदखल नागरिकों की नागरिकता नहीं होती।

    बेदखल नागरिकों का कोई देश नहीं होता।

    वे मारे जाने वाले लोग,और समुदाय हैं।


    इसी नरसंहार संस्कृति को मुक्तबाजारी विकास और समरसता कहते हैं और यही नस्ली रंगभेद लेकिन हमारी जाति व्यवस्था, हमारी रंग बिरंगी अस्मिताओं की मनुस्मृति अर्थव्यवस्था है,जिसे पल पलछिन हम उसके शिकार आम लोग मजबूत कर रहे हैं।क्योंकि सियासत मजहबी है तो मजहब भी सियासत है।


    आपदायें आयोजित,आयातित और प्रायोजित हैं जैसे परमाणु ऊर्जा का विकल्प और उत्पादन प्रणाली के खात्मे के लिए अबाध पूंजी प्रवाह और एफोडीआई जलवा एफडीआई बाबा बिरंची बाबा का।

    इसीतरह समझ लीजिये कि रंग बिरंगा आतंकवाद भी आयोजित प्रायोजित आयातित है,जैसे अरब वसंत,जैसे गोरक्षा आंदोलन।


    नतीजे क्या होंगे समझते न हों तो न्यूयार्क के धमाके से लेकर पेरिस के धमाके के हरिकथा अंनत बांच लें।


    हम उन घरानों को जानते हैं जो अब तक दुनियाभर में युद्ध और गृहयुद्ध की फंडिंग करती रहे हैं।


    जो दुनियाभर के बैंकों पर काबिज हैं और जो सारी दुनिया को तबाह करने के लिए हथियारों की दुकानें चलाते हैं जिनके गुलाम हैं हर धर्मराष्ट्र का वंशवर्चस्वी नस्लभेदी सत्ता वर्ग।


    जिनने दुनियाभर में धमाकों का इंतजाम कर रखा है।


    उन घरानों के तार भी जमींदारियों औररियासतों से जुड़े हैं जो धर्म के नाम,धर्म राष्ट्र के नाम अपनी अपनी जमींदारियों और रियासतों को मजबूत कर रहे हैं और कुल मिलाकर भारतीय सत्ता राजनीति और भारतीय अर्थव्यवस्था का खेल खुल्ला फर्रूखाबादी यहींच।


    समझ सको तो समझ लो भइये। कि अनंत नर्क के सिंहद्वार पर दस्तक है भारी और रोज रोज मर रहा ईश्वर अन्नदाता देहात भारत और किसान भी खुदकशी नहीं कर रहे कतई,वे मारे जा रहे हैं।


    खेती और खलिहान खत्म हो तो किसान बेमौत मारे जाते हैं और यह खुदकशी भी नहीं है यकीनन।


    खुदकशी बताने वाले हत्या में शामिल लोगों के कारिंदे हैं,समझ लीजिये।


    यह गुजरात कत्लेआम,यह भोपाल गैसत्रासदी,यह बाबरी विध्वंस या सिखों के नरसंहार जैसा राजसूय यज्ञ है,जो मनुष्यता के खिलाफ फिर युद्ध अपराध है।


    जैसे मारे जायेंगे खुदरा कारोबारी और उनके साथ वेतनमान भत्तों से बलि महाबलि तमाम सरकारी कर्म चारी,विनिवेश और निजीकरण की तलवारें उनपर भारी है,जैसे हरित क्रांति अब महामारी है।


    हम इसलिए बार बार चेतावनी जारी कर रहे हैं कि धमाके कहीं भी किसी भी वक्त हो सकते हैं और हम भूमिगत आग की जद में हैं,ज्वालामुखियों के मुहानों पर हमारा बसेरा है।


    पेरिस में धमाकों की तैयारी चाक चौबंद थी और पेरिस में फिर ऐसे धमाके नहीं होंगे,इसकी कोई गारंटी नहीं है।


    इसीतरह इसकी कोई गारंटी नहीं हैं कि मुंबई पर कब फिर हमले होंगे या नहीं होंगे या किस दूसरे शहर के दहशत की मजहबी सियासत के लिए चुन लेगी दहशतगर्द हुकूमतें।


    अरब वसंत अब कोढ़ की तरह फूटने लगा है।


    इस अरब वसंत का आयात भारत में भी हो गया है और घड़ी की बाजीगरी दिखानेवाले मुरारी बापू,आशाराम बापू,निर्मल बाबा,रामदेव बाबा और निर्मल बाबा जैसे तमाम बाजीगरों के दो कदम आगे करिश्मा दर करिश्मा कर गुजरने वाले बिरंची बाबा की नौटंकी पर ढोल नगाड़े ताशे के साथ अंधे भक्तों की तालियां हमें आगे आने वाली कयामत से बचा लेंगी,इसकी भी कोई गारंटी नहीं है।यह समझना आत्मरक्षा का अचूक रामवाण है।


    क्योंकि फिजां कयामत,मंजर कयामत सबकुछ उन्हींकी मजहबी सियासत का अपराधकर्म अधर्म धतकरम है।


    नतीजा यह कि दुनिया ने बता दिया है  कि हिंदुस्तान में तालिबान राजकाज है।अब अलकायदा,इस्लामिक स्टेट और तालिबान के कोसने के बजाय इस बात पर ज्यादा गौर कीजिये कि हिंदू तालिबान की फौजें उससे कतई कम भयंकर नहीं है और नजारे कयामत के मंजर हैं।


    फ्रांस के राष्ट्रपति ने कह दिया है कि फ्रांस कोई कमजोर राष्ट्र नहीं है और इस अपकर्म का उचित जवाब दिया जायेगा।तो अपने कल्कि अवतार का प्रवचन है किसभी को साथ मिलकर लड़ना होगा। कल पेरिस में मानवता का पर हमला यूएन आतंक की परिभाषा तय करे। उन्होंने कहा कि यूएन को आतंकवाद पर एक प्रस्ताव लाना चाहिए ताकि पता चल सके कि कौन आतंकवाद के साथ है और कौन आतंकवाद के खिलाफ हैं। वे दरअसल आतंकवाद के किलाफ अमेरिका और इजरायल के युद्ध में भारत की भागेदारी का संकल्प दोहरा रहे थे।


    गौर तलब है कि  फ्रांस की राजधानी में हुए बड़े आतंकी हमले के बाद फिर से फायरिंग और धमाके हुए हैं। इस बार धमाके पेरिस के पास बेग्नोलेट में हुए हैं। पुलिस चार संदिग्ध लोगों की तलाश कर रही है। बताया जा रहा है कि इनके पास काफी एक्सप्लोसिव है।


    ये हमले पेरिस में हुए उन हमलों के करीब 12 घंटे बाद हुए हैं जिनमें 128 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है। 300 लोग घायल हैं। 80 घायलों की हालत गंभीर बताई जा रही है।


    मुंबई जैसा है पेरिस अटैक. पेरिस में इस बार हमला मुंबई के 26/11 अटैक जैसा है।


    आतंकियों ने पहले लोगों को बंधक बनाया और फिर रेस्टोरेंट, फुटबॉल स्टेडियम जैसे पब्लिक प्लेस पर हमला किये।


    ऐसा बयान हमने न्यूयार्क में ट्विन टावर गिराये जाने के बाद वाशिंगटन के व्हाइट हाउस से गूंजते हुए सुने थे और नतीजा तबाह तबाह इराक अफगानिस्तान,समूचा मध्यपूर्व और अरब दुनिया है।


    नतीजा समुंदर में बह निकली आईलान की लाश है या फिर तेलकुंओं की आग से समुंदर में बह निकली तेल की धार में फंसी चिडिया के फड़फड़ते पंख हैं।


    फ्रांस के राष्ट्रपति ने कह दिया है कि पेरिस में इस्लामिक स्टेट के अपकर्म का जवाब हर हाल में दिया जायेगा।


    अपने टायटैनिक एफडीआई बाबा भी ब्रिटेन की राजकीय यात्रा पर हैं। इस राजसूय के दौरान चक्रवर्ती सम्राट कल्कि अवतार ने जहां ब्रिटेन की संसद को संबोधित किया, महारानी एलिजाबेथ के साथ भोज किया और वेंबले स्टेडियम में भारतीय समुदाय को संबोधित वहीं आज उन्होंने लंदन में बसवेश्वर महाराज की मूर्ति का अनावरण किया।तालियां पीटने वाली भीड़,कहकहे लगाकर राकस्टार बाजीगर चमत्कार पर पलक पांवड़े बिछाये गदगद लोटपोट भीड़ का आयोजक घराना कौन है,हालांकि हमें अबी पता नहीं चला है।


    जैसे बाबासाहेब को हिंदुत्व का अवतार बनाया गया है,दक्षिण में सामाजिक न्याय और समता के लिए बसवेश्वर आंदोलन का भी बंगाल के मतुआ आंदोलन की तरह अपहरण और हिंदुत्वकरण हो गया है।हिंदुत्व के नर्क के खिलाफ बसवेश्वर ने आंदोलन किया था और फिलहाल कर्नाटक में बसवेश्वर के अनुयायी सभी क्षेत्रों में बलि माहबलि हैं,जिन्हें साथ लेकर संस्थागत फासीवाद ने अब तक जो किया है,वह टीपू सुल्तान को राष्ट्रद्रोही बनाने का आयोजन है।


    इस मौके पर बिरंची बाबा ने अर्धसत्य कहा कि बसवेश्वर ने 12वीं सदी में लोकतांत्रिक मूल्यों की योजना बनाई थी। वे महिला सशक्तीकरण की बात करते थे। बसवेश्वर महाराज महाराष्ट्र के एक ऐसे संत रहे हैं जिन्होंने हिन्दू धर्म में जातिवाद को मिटाने का भरपुर प्रयास किया और मध्यकाल में हिन्दुओं को संगठित करने का कार्य किया।


    गौरतलब है कि बसवेश्वर महाराज हिंदुत्व को संगठित वैसे ही नहीं कर रहे थे जैसे हरिचांद ठाकुर,बीरसा मुंडा,टांट्या भील,रानी दुर्गावती,सिधो कान्हो महात्मा ज्योतिबा फूले,सावित्री बा फूले,कबीर सूर तुलसी मीरा रसखान दादु गाडगे नानक चैतन्य महाप्रभु तुकाराम लालन फकीर हिंदुत्व को संगठित नहीं कर रहे थे,बल्कि वे जाति के स्थाई असमता और अन्याय और गुलामी के बंदोबस्त के खिलाफ बाकी पुरखों की तरह आंदोलन कर रहे थे।


    बाबासाहेब भी यही कर रहे थे।


    अब गिरीश कर्नाड ने इस धर्मोन्मादी जुनून को जो बिरंची बाबा से सीधे जोड़ा है,उसका सबूत लंदन में उनका फरेबी बयान है जो इतिहास को झुठलाता है।


    हमारे पुरखों को वानर,दस्यु,असुर,दैत्य,राक्षस,दानव,भूत प्रेत बनाने का बाद उनका दानवीकरण के बजाय अब अवतारीकरण करने का खेल है और उन्हें ब्रह्मास्त्र बनाकर ही इस देश में बहुजनों का नरसंहार जारी है जो अबाध पूंजी प्रवाह और एफडीआई के उपनिवेश का खास इंतजाम है और यहींच सियासती मजहब मजहबी सियासत का तालिबान राज है।


    अभी लीबिया से लेकर सीरिया तक,मिस्र से लेकर तुर्की तक अरब वसंत के झोंकों से अपनी तबीयत भी हरी कर लीजिये।


    अरब वंसत की सियासती मजहब को सबसे मुकम्मल हथियार बनाकर जो धर्म राष्ट्र और धर्म ग्लोबल आर्डर ने अमेरिका और इजराइल के दुश्मनों का हिसाब किताब बराबर कि दिया,देखते रहें कि वे किस कदर लहूलुहान हैं!


    # पेरिस में # मुंबई धमाके इसीलिए की हमीं नहीं सिर्फ,सारी दुनिया अब # मजहबी सियासत के शिकंजे में हैं


    इस्लामिक स्टेट का आखिरी निशाना सउदी अरब है और इस्लाम के सबसे पाक इबादतगाह भी,तो समझिये कि उसके पीछे हाथ किस किसके हैं!


    इस्लामिक स्टेट, अलकायदा और तालिबान भी उन्हींने पैदा किया है और यह भी समझ लीजिये कि वे जनक संप्रदाय भारत में भी हिंदूतालिवान पैदा करने वाले हैं मुनाफा वसूली के लिए।


    अब खैर मनाइये कि हमें भी अमेरिका के युद्ध में फिर पार्टल नर बनाया गया है!


    पार्टनर हम विश्वयुद्धों के भी बने थे और खैरात में भुखमरी भी मिली थी और अब फिर खैरात तबाही है!


    हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.com/hastakshephastakshep को लाइक करें या फेसबुक ग्रुप https://www.facebook.com/groups/152006878154073/ के सदस्य बनें अथवा ट्विटर पर https://twitter.com/mediaamalendu फॉलो करें तथा रियल टाइम अपडेट रहें। Add us to your address book


    हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.com/hastakshephastakshep को लाइक करें या फेसबुक ग्रुप https://www.facebook.com/groups/152006878154073/ के सदस्य बनें अथवा ट्विटर पर https://twitter.com/mediaamalendu फॉलो करें तथा रियल टाइम अपडेट रहें।


    #PARIS Struck #Mumbai Blasts and Humanity bleeds yet again!Terror might strike Any where,Any Time! Be Aware!

    Paris Attack | Bataclan Hostages Leave
    https://www.youtube.com/watch?v=aXy23tH_Z4c

    Paris Attack | Explosion Audible From Stade De France
    https://www.youtube.com/watch?v=Nsq3vTXgU7A


    #ModiInUK: ब्रिटिश मीडिया ने कहा- भारत में है हिंदू तालिबान का राज


    Hindu Taliban on the rise in India, claims UK based sculptor ...

    Video for Sir Anish kapoor Hindu Taliban▶ 1:56

    https://www.youtube.com/watch?v=LrlqOOMWZfs

    19 hours ago - Uploaded by Oneindia News

    An opinion piece in prominent British newspaper has observed that a Hindu Taliban was raising its head in ...

    Terror Strikes Mumbai on 26/11/2008 - YouTube

    Video for Terror strikes in Mumbai▶ 48:05

    www.youtube.com/watch?v=mw0nMqaIqAo

    Mar 29, 2014 - Uploaded by Atul Kumar Singh

    Mumbai was struck by unprecedented terror strike on 26/11/2008. Ajmal Kasab, the only terrorist who was ...




    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0


    Gonojagoron Moncho projonmochottar@gmail.com
    wrote on a new alliance in Bangladesh between Chief Justice SK Sinha and Khaleda Zia:
    • রপ্রধান বিচারপতি এসকে সিনহার সঙ্গে খালেদার ঘনিষ্ঠ আত্মীয়ার বৈঠক
    • ক্ষমতায় এলে সিনহাকে রাষ্ট্রপতি করার আশ্বাস খালেদার

    বাংলাদেশের বর্তমান রাজনীতির গতিপ্রকৃতি দেখে মনে হচ্ছে, ১৯৭৫-এ জাতির পিতা বঙ্গবন্ধু শেখ মুজিবুর রহমানকে সপরিবারে হত্যার প্রাক্কালে ষড়যন্ত্রের যে নীল নক্সা পাকিস্তানে বসে আঁকা হয়েছিল, ঠিক তার চার দশক পরে পাকিস্তানের গোয়েন্দাবাহিনী আইএসআই আবার একই ষড়যন্ত্রে লিপ্ত। এবারে ষড়যন্ত্রের ছক শুধু রাওয়ালপি-ির জিএইচকিউ-তে বসে কথা হচ্ছে না, তার জাল ছড়িয়ে পড়েছে সুদূর লন্ডনে, যেখানে বাংলাদেশ সামরিক বাহিনী থেকে বরখাস্ত হওয়া মেজর, কর্নেলরা শেখ হাসিনা বিরোধী ষড়যন্ত্রে শামিল হয়েছে। নির্ভরযোগ্য সূত্র মতে, এই ষড়যন্ত্রে বেশ কয়েকটি পশ্চিমি দেশও জড়িয়ে গেছে যে কারণে শেখ হাসিনা সম্প্রতি এক সাংবাদিক সম্মেলনে তার উল্লেখও করেছেন যা তিনি আগে কখনও করেননি। শেখ হাসিনা বিরোধী ষড়যন্ত্রের পরিকল্পনা যখন রাওয়ালপি-ি ও লন্ডনে বসে রচনা করা হচ্ছে তখনই ভারতের প্রধানমন্ত্রী লন্ডন সফরে গেছেন এবং তাঁর সঙ্গে লন্ডনে বসবাসরত বিএনপি নেত্রী খালেদা জিয়া ও তাঁর পুত্র তারেক রহমান মরিয়া হয়ে একান্তে সাক্ষাতের চেষ্টা চালাচ্ছেন। 
    লন্ডনে এই ষড়যন্ত্রের নেতৃত্ব দিচ্ছেন সেখানে বসবাসরত বাংলাদেশ মিলিটারি থেকে অবসরপ্রাপ্ত মেজর আবু বকর সিদ্দিকি এবং শেখ হাসিনার আমলে বাধ্যতামূলক অবসর পাওয়া মেজর সাইফ সামরিক বাহিনীর কিছু অফিসারকে নিয়ে বঙ্গবন্ধুর ভাগ্নে শেখ মণির পুত্র ব্যারিস্টার ফজলে নূর তাপসকে হত্যার চেষ্টা করেন। ১৫ আগস্ট ১৯৭৫-এ বরখাস্ত হওয়া সামরিক বাহিনীর কিছু অফিসার ও জওয়ান বঙ্গবন্ধুকে সপরিবারে হত্যা করার পাশাপাশি শেখ মণি ও তাঁর অন্তঃসত্ত্বা স্ত্রীকে খুন করে বেয়নেট দিয়ে খুঁচিয়ে খুঁচিয়ে তাঁদের দেহ বিকৃত করে। বহিষ্কৃত বাংলাদেশ সামরিক বাহিনীর অফিসাররা লন্ডনে কুইন্সওয়ে স্কোয়ারে অবস্থিত পাকিস্তান দূতাবাসে নিয়মিত যাতায়াত করেন। তাঁরা সেখানে আইএসআই 'অপারেটিভদের'সঙ্গে যোগাযোগ রাখার জন্য গিয়ে থাকেন। আইএসআই এই বহিষ্কৃত অফিসারদের মাধ্যমে বাংলাদেশের জঙ্গিদের সঙ্গে যোগাযোগ রেখে চলেছে। নির্ভরযোগ্য সূত্রে খবর, তাঁদের মাধ্যমে প্রচুর বিদেশী অর্থ বাংলাদেশে পাচার হচ্ছে যা শেষ পর্যন্ত জঙ্গিদের হাতে গিয়ে পড়ছে। এই বহিষ্কৃত অফিসারদের সঙ্গে চাকরিজীবনে আইএসআইয়ের যোগাযোগ ও সখ্য নিবিড় হয়। তাদের হাত ধরেই বেশ কিছু পাকিস্তানী জঙ্গি ট্রেনার লন্ডন থেকে নানান পথ ধরে বাংলাদেশে ঢুকেছে। পাকিস্তানী জঙ্গি ট্রেনাররা যে বাংলাদেশে এসে ঢুকেছে তার প্রমাণ চলতি সপ্তাহে পাওয়া যায়। গত রবিবার ও মঙ্গলবার ছয় জন পাকিস্তানী জঙ্গি ট্রেনারকে বাংলাদেশ পুলিশ গ্রেফতার করে এবং ওই জঙ্গিদের জন্য এক বিশাল অঙ্কের টাকা লন্ডন থেকে হুন্ডি করে বাংলাদেশে পাঠানো হয়। ওই সূত্রের খবর, বাংলাদেশ থেকেও বিশাল অঙ্কের টাকা লন্ডনে পাচার হয়েছে খালেদা ও তার পুত্র তারেক রহমানের জন্য। সূূত্রমতে ওই হন্ডির একাংশ লন্ডনে বসবাসরত তারেক রহমানের পরিচিত গুজরাতি ব্যবসায়ীদের দেয়া হয়েছে যাঁরা কথা দিয়েছেন তাঁরা প্রধানমন্ত্রী নরেন্দ্র মোদির লন্ডন সফরের সময় খালেদা জিয়া ও তাঁর পুত্রকে গোপনে সাক্ষাতের ব্যবস্থা করে দেবেন। এই ব্যবসায়ীরা নিজেদের ভারতীয় লবিস্ট বলে পরিচয় দেন। কিন্তু ভারতীয় প্রধানমন্ত্রীর লন্ডন সফরসূচীতে খালেদা বা তারেকের সঙ্গে কোন সাক্ষাতের উল্লেখ নেই।
    প্রসঙ্গত উল্লেখ্য, গত জুন মাসে ঢাকা সফরের সময় প্রধানমন্ত্রী মোদি খালেদাকে কিছু প্রশ্ন জিজ্ঞাসা করে খুবই বিব্রতকর অবস্থায় ফেলে দেন। প্রথম প্রশ্ন ছিল, তিনি কেন ভারতীয় রাষ্ট্রপতির সঙ্গে সাক্ষাতের সময় চেয়েও তাঁর সঙ্গে দখা করেননি? বর্ধমানে খাগড়াগড় বিস্ফোরণ কা- নিয়েও তিনি বেশ কিছু অস্বস্তিকর প্রশ্ন করেন যার কোনও সদুত্তর খালেদা দিতে পারেননি। এহেন প্রধানমন্ত্রী খালেদা ও তাঁর পুত্রের সঙ্গে গোপনে সাক্ষাত করবেন তা এককথায় অসম্ভব। কারণ তিনি জানেন খালেদা ও তাঁর পুত্রের উদ্দেশ্য মহৎ নয়। তাঁরা বলবেন বাংলাদেশে গণতন্ত্র বিপন্ন, হাসিনাকে সরিয়ে দিয়ে বাংলাদেশে গণতন্ত্র পুনর্প্রতিষ্ঠা করুক ভারত। আমার মনে হয় না প্রধানমন্ত্রী নবেন্দ্র মোদি খালেদা-তারেকের এই ফাঁদে পা দেবেন। তাছাড়াও খালেদার দুর্নীতিগ্রস্ত পুত্র তারেকের ভাবমূর্তির সম্বন্ধে তিনি ভালভাবেই ওয়াকিবহাল। বাংলাদেশে তারেকের বিরুদ্ধে দুটি গ্রেফতারি পরোয়ানাও রয়েছে।
    অন্যদিকে লন্ডনে অবস্থানরত ফেরার আসামি বিএনপি নেতা মাহতাবের মাধ্যমে বাংলাদেশের প্রধান বিচারপতি সুরেন্দ্রকুমার সিনহার সঙ্গে খালেদার বিশেষ ঘনিষ্ঠ এক আত্মীয়ার এক বৈঠক বাংলাদেশের রাজনীতিকে এক নতুন মোড়ে এনে দাঁড় করিয়েছে। সূত্রমতে, ওই আত্মীয়া খালেদার তরফ থেকে বিচারপতি সিনহাকে আশ্বস্ত ও নিশ্চয়তা দেন এই বলে যে, খালেদা ক্ষমতায় এলে তিনি বিচারপতি সিনাহকে রাষ্ট্রপতি নিয়োগ করবেন। বিএনপি নীতিনির্ধারকরা মনে করেন, একজন উপজাতি হিন্দুকে রাষ্ট্রপতি নিয়োগ করলে বিশেষ করে ভারতের শাসকদল বিজেপি খুবই খুশি হবে। বিচারপতি সিনহা মুক্তিযুদ্ধের সময় জামাত নেতা গোলাম আযমের সৃষ্ট শান্তি কমিটির সদস্য ছিলেন এবং বাংলাদেশের পত্রপত্রিকায় এই খবর প্রকাশিতও হয়েছে। এ ছাড়া সম্প্রতি বাংলাদেশে বহুল আলোচিত একটি মামলায় সুরেন্দ্রকুমার সিনহা আদালতে স্বীকার করেন যে, তিনি বিএনপি নেতা সালাউদ্দিন কাদের চৌধুরীর পরিবারের কথামতো তাঁর বিচারের বেঞ্চ গঠন করেছিলেন। উল্লেখ্য, সালাউদ্দিন কাদের চৌধুরী মুক্তিযুদ্ধের সময় প্রচুর মুক্তিযোদ্ধাকে নিজের হাতে হত্যা করেন। যে কারণে মানবতাবিরোধী অপরাধ ট্রাইব্যুনাল তাকে মৃত্যুদ-ে দ-িত করেছে। সালাউদ্দিন কাদের চৌধুরী বাংলাদেশে আইএসআইয়ের মূল স্তম্ভ হিসেবে পরিচিত।

    __._,_.___
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0


    क्रान्तिदूत एवं स्वतंत्रता सेनानी अमर शहीद
    वीर बिरसा मुण्डा की 141वीं जयंति पर नमन
    =========================

    संक्षिप्त जीवन परिचय : वीर बिरसा मुण्डा का जन्म 15 नवम्बर, 1872 को खुट्टी के चकलेद गॉव में हुआ था। इनकी शिक्षा-दीक्षा मिहानरी विद्यालय में हुई थी। 1899 में इन्होंने उलगुलान आंदोलन छेड़ा, जिसे सामंतों और अंग्रेजों ने मिलकर दबा दिया और 3 फरवरी, 1900 को उन्हें गिरफ्तार कर जेल में दाल लिया गया। अंतत: 5 जून 1900 को रांची के कारागार में ही उनकी हत्या कर दी गयी। जिसे हैजा के कारण हुई मृत्यु कहकर प्रचारित किया गया।

    जनजातीय विद्रोह :
    1-जनजातीय विद्रोह में सबसे संगठित एवं विस्तृत विद्रोह 1895 ई. से 1901 ई. के बीच मुण्डा विद्रोह था, जिसका नेतृत्व आदिवासी वीर बिरसा मुण्डा ने किया था।
    2-वीर बिरसा मुण्डा का जन्म 1875 ई. में रांची के तमार थाना के अन्तर्गत चालकन्द गाँव में हुआ था। उसने अंग्रेजी शिक्षा प्राप्त की थी।
    3-वीर बिरसा मुण्डा ने, मुण्डा विद्रोह नाम से प्रसिद्ध विद्रोह पारम्परिक मनुवादी सामंतशाही एकाधिकारवादी भू-व्यवस्था के खिलाफ आदिवासियों को जमींदारी हक प्रदान करने की व्यवस्था में परिवर्तन हेतु सामजिक-धार्मिक-राजनीतिक आन्दोलन का स्वरूप प्रदान किया।
    4-वीर बिरसा मुण्डा को स्थानीय भाषा में उल्गुहान (महान विद्रोही) कहा गया है। जिन्होंने धर्म के नाम पर अन्ध विश्वास पैदा करने वाली मनुवादी व्यवस्था के खिलाफ आदिवासियों को एकजुट किया और एकेश्वरवाद का संदेश दिया। 
    5-वीर बिरसा मुण्डा ने अपनी सुधारवादी प्रक्रिया का सामाजिक जीवन में एक आदर्श प्रस्तुत किया। इसलिए उन्होंने निजी जीवन में नैतिक आचरण की शुद्धता, आत्म-सुधार और एकेश्‍वरवाद का उपदेश दिया।
    6-वीर बिरसा मुण्डा ने स्थानीय सामंतों के मार्फ़त संचालित ब्रिटिश सत्ता के अस्तित्व को अस्वीकारते हुए अपने अनुयायियों को सामंतों के मार्फ़त सरकार को लगान न देने का आदेश दिया।
    7-नाइंसाफी से विरुद्ध संघर्षरत वीर बिरसा मुण्डा की बढ़ती लोकप्रियता से घबराकर, कुछ धोखेबाज आदिवासियों के सहयोग से सामंतों और अंग्रेजों ने उनको 1900 ई. गिरफ्तार कर, जेल में डाल दिया जहाँ। जहाँ हैजा की बीमारी से उनकी मृत्यु होना प्रचारित किया गया। जबकि हकीकत में मनुवादियों और अंग्रेजों ने सामूहिक षड्यंत्र रचकर बिरसा को जेल में मार डाला।

    प्रतिज्ञा करें : आज 15.11.2015 को उनकी 141वीं जयंति है। इस अवसर पर हम सभी आदिवासी और वीर बिरसा के जीवन संघर्ष को जानने और मान्यता प्रदान करने वाले सभी भारतवासी क्रान्तिदूत आदिवासी स्वतंत्रता सेनानी और अमर शहीद वीर बिरसा मुंडा द्वारा अन्याय के खिलाफ किये गए संघर्ष को नमन करते हैं। और अमर शहीद वीर बिरसा मुंडा के जीवन से प्रेरणा लेते हुए हम अपनी-अपनी सामूहिक सामाजिक जिम्मेदारी मानते हुए सच्चे मन से स्वेच्छा प्रतिज्ञा करें कि :-

    01-हम सभी आदिवासी किसी के अन्याय और भेदभाव को नहीं सहेंगे।
    02-हम सभी आदिवासी एक दूसरे की पीड़ाओं को साझा करेंगे। 
    03-हम सभी आदिवासी संघर्ष करने के लिए हमेशा एकजुट रहेंगे।
    04-हम सभी आदिवासी धोखेबाज आदिवासियों से सावधान रहेंगे।
    05-हम सभी आदिवासी अन्यायपूर्ण मनुवादी गुलामी से मुक्त होंगे।
    06-हम सभी आदिवासी अन्धविश्वास और कुरूतियों को तोड़ेंगे।
    07-हम सभी आदिवासी आर्यों के विरूद्ध अनार्यों को एकजुट करेंगे।
    08-हम सभी आदिवासी अपने मौलिक और संवैधानिक हकों की रक्षा करेंगे।
    09-हम सभी आदिवासी प्रकृति नाशक विकास का विरोध करेंगे।
    10-हम सभी आदिवासी सभी समान भागीदारी के लिए संघर्ष करेंगे।
    11-हम सभी आदिवासी धर्मनिरपेक्षता का सम्मान और समर्थन करेंगे।
    डॉ. पुरुषोत्तम मीणा 'निरंकुश', राष्ट्रीय प्रमुख
    हक रक्षक दल (HRD) सामाजिक संगठन
    संयोजक : प्रस्तावित वंचित/अनार्य महासंघ
    WA/M. No. 9875066111/14.11.15/10.08 

    1st Note---उपरोक्त लेख सच का आईना फेस बुक ग्रुप (https://www.facebook.com/groups/Sachkaaaina/) एवं MTS (Meena Tribal Society)-एमटीएस (मीणा आदिवासी समाज) (https://www.facebook.com/groups/Meenatribalsociety/) पर भी प्रकाशित है। आप चाहें तो सार्वजनिक चर्चा में भाग ले सकते हैं।

    2nd Note : मेरे अन्य लेख पढने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें :

    3rd Note : HRD के बारे में अधिक जानकारी के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें :

    4th Note : मित्रो जनहित में मेरी ओर से लिखित सन्देश, लेख, HRD न्यूज लैटर-MOST VOICE और जनजागरण की जानकारी की सामग्री मुफ़्त में प्राप्ति हेतु मुझ से व्यक्तिगत रूप से वाट्स एप न. 9875066111 पर जुड़े हुए या मेरे द्वारा स्वेच्छा से जोड़े गए सभी मित्रों को नियमित रूप से इनबॉक्स में भेजी जाती है। जो मित्र 11 पॉइंट्स का परिचय लिखने के बाद अपना वाट्स एप न. बदल लेते हैं। उनका विवरण मेरे रिकॉर्ड में से डिलीट कर दिया जाता है। इसलिए उनको कोई जानकारी नहीं भेजी जा सकती। यदि आपको मेरी ओर से भेजी गयी सामग्री जनहित में उपयोगी लगे तो कृपया इसे अपने सभी मित्रों को फॉरवर्ड करें। अन्यथा अनुचित लगे तो मुझे अवगत करवाएं। आपको भविष्य में सामग्री नहीं भेजी जायेगी।---हो सके तो अपने सभी मित्रों को सीधे वाट्स एप न. 9875066111 पर जुड़ने को भी प्रेरित करें। जिससे सभी अच्छे और सच्चे तथा इन्साफ पसंद लोग वैचारिक रूप से एकजुट हो सकें। क्योंकि-हमारा मकसद साफ़। सभी के साथ इन्साफ।।
    --धन्यवाद जी।
    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0


    • मतभेदों के बावजूद #नेहरू के इरादों पर कोई शक नहीं : राजनाथ सिंह

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 22:37:56 +0000
      नई दिल्ली : आखिरकार भारतीय जनता पार्टी को भी कहना पड़ा है कि नेहरू जैसे नेताओं के योगदान के चलते ही भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र बना, भारत अब अपने लोकतंत्र की सफलता का उत्सव मना रहा है। गृह...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • YOU TALK ABOUT 'VIKAS' BUT RUN YOUR SHOP: #MANMOHAN TO #MODI

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 22:16:12 +0000
      YOU TALK ABOUT 'VIKAS' BUT RUN YOUR SHOP: MANMOHAN TO MODI New Delhi, Nov 14 (ANI): Former Prime Minister Manmohan Singh on Saturday used the 126th birth anniversary celebration of...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • Mumbai on security alert following Paris terror attacks #Parisattack

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 22:07:38 +0000
      Mumbai on security alert following Paris terror attacks  #Parisattack   Mumbai, Nov 14 (ANI): Following the deadly attacks in Paris, financial capital Mumbai has been put on high security alert....

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • No amount of condemnation enough for #Parisattack : Sonia

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 21:59:06 +0000
      No amount of condemnation enough for Paris attack: Sonia New Delhi, Nov 14 (ANI): Expressing grief over the dastardly terrorist attacks in Paris, Congress President Sonia Gandhi on Saturday dubbed it...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • फ्रांस के राष्ट्रपति ने पेरिस हमले के लिए इस्लामिक स्टेट को बताया जिम्मेदार

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 21:46:59 +0000
      नई दिल्ली। पेरिस में शुक्रवार रात हुए आतंकवादी हमलों पर फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि यह आतंकवादी सेना (इस्लामिक स्टेट) द्वारा छेड़ी गई लड़ाई है। ओलांद...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • अस्तित्व बचाए रखने के लिये #ग्रीनपीस जारी रखेगा संघर्ष

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 19:50:52 +0000
      नई दिल्ली। केंद्र सरकार की दमनकारी कार्रवाई के विरोध में अपने स्वर को तेज करते हुए ग्रीन पीस इंडिया ने दो टूक कहा है कि वह अस्तित्व बचाए रखने के लिये संघर्ष जारी रखेगा। ग्रीनपीस इंडिया कार्यकारी...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • Rahul re-establishes 'secular credentials' at Nehru's birth anniversary

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 19:30:47 +0000
      Rahul re-establishes 'secular credentials' at Nehru's birth anniversary New Delhi, Nov 14 (ANI): Vice president Rahul Gandhi on Saturday re-established secular credentials of the...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • पेरिस में मुंबई धमाके और दुनिया ने कह दिया, हमने हिंदू तालिबान राज चुन लिया!

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 19:21:10 +0000
      पेरिस में मुंबई धमाके और हम भी अरबिया वंसत के शिकंजे में दुनिया ने कह दिया, हमने हिंदू तालिबान राज चुन लिया! पलाश विश्वास #PARISStruck #MumbaiBlasts and Humanity bleeds yet again! Terror might strike...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • #ParisAttacks – और ईश्वर जो तू था/ तो अब तक चुप क्यों था ?

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 19:18:24 +0000
      सन्दर्भ : पेरिस अटैक #PARISStruck #MumbaiBlasts मुकदमा ईश्वर बनाम पुजारी ———————- जिहाद क्रुसेड धर्मयुद्ध धर्म या युद्ध युद्धों से ज्यादा धर्मयुद्ध * कितने...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • President Mukherjee addresses IITF in Delhi

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 18:34:26 +0000
      New Delhi, Nov 14 (ANI): President Pranab Mukherjee on Saturday addressed the inauguration ceremony of India International Trade Fair (IITF). President Mukherjee also said that the needs of...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • बस हो चुकी नमाज़ मुसल्ला उठाइये- जस्टिस काटजू #ParisAttacks

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 18:10:43 +0000
      #ParisAttacks - बस हो चुकी नमाज़ मुसल्ला उठाइये- जस्टिस काटजू नई दिल्ली। सर्वोच्च न्यायालय के अवकाश प्राप्त न्यायाधीश जस्टिस मार्कण्डेय काटजू ने पेरिस में आतंकी हमले की कड़ी निन्दा की है। जस्टिस काटजू...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • असहिष्णु माहौल के लिए #BJP, #RSS जिम्मेदार-राहुल

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 17:38:14 +0000
      नई दिल्ली ! कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि देश में चल रहे असहिष्णु माहौल के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि पूरे देश को...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • #ISIS #अलकायदा और #तालिबान भी उन्हीं ने पैदा किये जो पैदा कर रहे हैं #हिंदूतालिबान

      Posted:Sat, 14 Nov 2015 16:45:33 +0000
      बिरंची बाबा ने अमेरिकी युद्ध में भागेदारी का वायदा दोहरा दिया #पेरिस में #मुंबई धमाके इसीलिए की हमीं नहीं सिर्फ, सारी दुनिया अब #मजहबी सियासत के शिकंजे में हैं! इस्लामिक स्टेट का आखिरी निशाना सउदी...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • Is RSS afraid that the Bhashmasur would burn RSS itself?

      Posted:Fri, 13 Nov 2015 17:47:50 +0000
      Is RSS creating an option of BJP to make it rigid Hindutva yet again? Advani controls damage, then why does RSS launched yet another political party? Palash Biswas Lk Advani created the Bhasmasur...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • मौलाना आज़ाद: एक राष्ट्रवादी मुसलमान के जीवन की झलक

      Posted:Fri, 13 Nov 2015 16:58:52 +0000
      हिंदू राष्ट्रवादी और मुस्लिम लीग के सदस्य, ब्रिटिश साम्राज्यवाद के समर्थक थे -इरफान इंजीनियर केंद्रीय संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने हाल में फरमाया कि भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          
    • बिहार का ब्रेक

      Posted:Fri, 13 Nov 2015 16:43:34 +0000
      जावेद अनीस 2014 आम चुनाव के बाद यह सबसे बड़ा चुनाव था, जिसमें एक तरफ नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी ने भाजपा और भारत की राजनीति में अजेय साबित करने के लिए अपने आप को दावं पर लगा रखा था, तो दूसरी तरफ...

      पूरा आलेख पढने के लिए देखें एवं अपनी प्रतिक्रिया भी दें http://hastakshep.com/
          

    Add us to your address book


    http://www.hastakshep.com/donate-to-hastakshep

    https://www.facebook.com/hastakshephastakshep

    https://twitter.com/HastakshepNews


    आपको यह संदश इसलिए मिला है क्योंकि आपने Google समूह के "हस्तक्षेप.कॉम" समूह की सदस्यता ली है.
    इस समूह की सदस्यता समाप्त करने और इससे ईमेल प्राप्त करना बंद करने के लिए, hastakshep+unsubscribe@googlegroups.com को ईमेल भेजें.
    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    https://youtu.be/NbUVTHAib3M


    Study of 73 ethno-linguistic groups establishes that ancient India was one in which all people intermingled freely!

    India is inflicted with Mandal Kamandal Civil war just because of an artificial system Manusmriti imposed upon generations of people that encouraged inequality and supressed them for 2,000 years.


    In ancient India,we Indians were ONE Blood,latest genetic study proves and it says that Manusmriti launched after the demise of buddhist India killed that unity and integrity inherent,the merger of human streams and now HinduTaliban sustains the Manusmriti!
    We,the Indian people share the most common genetics of love,intolerance and pluralism!Despite the inherent racist apartheid of Caste!


    হে মোর চিত্ত, পূণ্য তীর্থেঃPrey for Humanity!Many More Mayhem to follow if we fail to activate the Love apps against this unprecedented violence!


    In India,the genetics of humanity calls for intolerance,pluralism,universal brotherhood, unity, integrity and Buddhist ideology of Panchsheel to resist the caste war ahead,the Mandal Kamandal War overwhelming and the intensive religious polarization resultant to sustain dynasty rule as dynasty rule is the genetics of hegemony that kills the democracy and secularism to invoke the incarnation of suicidal fascism!

    Palash Biswas

    TRAN, BHARAT TIRTHA - YouTube

    bharat tirth by tagoreএর ভিডিও▶ 5:49

    https://www.youtube.com/watch?v=gyEzxTqGh8Y


    ২৯ ডিসেম্বর, ২০১০ - Asim Duttaroy আপলোড করেছেন

    TAGORE POEMS A Video By Asim Duttaroy I am not the owner of this song. Uploaded for general entertainment.

    Bharat tirtha (English recitation - YouTube

    bharat tirth by tagoreএর ভিডিও▶ 4:24

    https://www.youtube.com/watch?v=7ZiouiTWedE


    ১ এপ্রিল, ২০১১ - Asim Duttaroy আপলোড করেছেন

    Bharat tirtha (English recitation. Asim Duttaroy ... For Tagore'sMaha Manav is not about the individual, it ...

    হে মোর চিত্ত, পূণ্য তীর্থে

    - রবীন্দ্রনাথ ঠাকুর---গীতাঞ্জলি

    হে মোর চিত্ত,পূণ্য তীর্থে

                 জাগো রে ধীরে--

          এই ভারতের মহামানবের

                 সাগরতীরে।

                       হেথায় দাঁড়ায়ে দু-বাহু বাড়ায়ে

                              নমি নর-দেবতারে,

                       উদার ছন্দে পরমানন্দে

                              বন্দন করি তাঁরে।

            ধ্যান-গম্ভীর এই যে ভূধর,

            নদীজপমালাধৃত প্রান্তর,

            হেথায় নিত্য হেরো পবিত্র

                 ধরিত্রীরে

            এই ভারতের মহামানবের

                 সাগরতীরে।

                 কেহ নাহি জানে কার আহ্বানে

                       কত মানুষের ধারা

                 দুর্বার স্রোতে এল কোথা হতে

                       সমুদ্রে হল হারা।

                              হেথায় আর্য, হেথা অনার্য

                              হেথায় দ্রাবিড়, চীন--

                              শক-হুন-দল পাঠান মোগল

                                     এক দেহে হল লীন।

                      পশ্চিম আজি খুলিয়াছে দ্বার,

                      সেথা হতে সবে আনে উপহার,

                      দিবে আর নিবে, মিলাবে মিলিবে

                              যাবে না ফিরে,

                       এই ভারতের মহামানবের

                              সাগরতীরে।

                 রণধারা বাহি জয়গান গাহি

                       উন্মাদ কলরবে

                 ভেদি মরুপথ গিরিপর্বত

                       যারা এসেছিল সবে,

                              তারা মোর মাঝে সবাই বিরাজে

                                     কেহ নহে নহে দূর,

                              আমার শোণিতে রয়েছে ধ্বনিতে

                                     তারি বিচিত্র সুর।

                       হে রুদ্রবীণা, বাজো, বাজো, বাজো,

                       ঘৃণা করি দূরে আছে যারা আজো,

                       বন্ধ নাশিবে, তারাও আসিবে

                              দাঁড়াবে ঘিরে

                       এই ভারতের মহামানবের

                              সাগরতীরে।

    হেথা একদিন বিরামবিহীন

                 মহা ওংকারধ্বনি,

          হৃদয়তন্ত্রে একের মন্ত্রে

                 উঠেছিল রনরনি।

                       তপস্যাবলে একের অনলে

                              বহুরে আহুতি দিয়া

                       বিভেদ ভুলিল, জাগায়ে তুলিল

                              একটি বিরাট হিয়া।

                 সেই সাধনার সে আরাধনার

                 যজ্ঞশালায় খোলা আজি দ্বার,

                 হেথায় সবারে হবে মিলিবারে

                       আনতশিরে--

                এই ভারতের মহামানবের

                       সাগরতীরে।

          সেই হোমানলে হেরো আজি জ্বলে

                 দুখের রক্ত শিখা,

          হবে তা সহিতে মর্মে দহিতে

                 আছে সে ভাগ্যে লিখা।

                       এ দুখ বহন করো মোর মন,

                              শোনো রে একের ডাক।

                       যত লাজ ভয় করো করো জয়

                              অপমান দূরে থাক।

                 দুঃসহ ব্যথা হয়ে অবসান

                 জন্ম লভিবে কী বিশাল প্রাণ।

                 পোহায় রজনী, জাগিছে জননী

                       বিপুল নীড়ে,

                 এই ভারতের মহামানবের

                       সাগরতীরে।

          এসো হে আর্য, এসো অনার্য,

                 হিন্দু মুসলমান।

          এসো এসো আজ তুমি ইংরাজ,

                 এসো এসো খৃস্টান।

                      এসো ব্রাহ্মণ শুচি করি মন

                       ধরো হাত সবাকার,

                      এসো হে পতিত করো অপনীত

                       সব অপমানভার।

                 মার অভিষেকে এসো এসো ত্বরা

                 মঙ্গলঘট হয় নি যে ভরা,

                 সবারে-পরশে-পবিত্র-করা

                       তীর্থনীরে।

                 আজি ভারতের মহামানবের

                       সাগরতীরে।

    ১৮ আষাঢ়, ১৩১৭


    Latest genetic studies prove that caste system kills the inherent unity of the universal brotherhood and the killings further intensified with religious polarization supported by the economics of Free market with free flow of foreign capital and foreign interests.It makes the genetics of violence and hate so dominanat that the world is set on fire.


    A 2013 study has offered a definitive picture on the origins of caste in the Indian society. The findings of a team of researchers from the Harvard Medical School and the Centre for Cellular and Molecular Biology (CCMB) have significant relevance when looking for a deeper reading of the Bihar poll results.sunday Economic times reports which as follows with the end of this write up.The study which involved mapping the genomes of 571 individuals from 73 ethno-linguistic groups establishes that ancient India was one in which all people intermingled freely. The study had improved upon its 2009 findings which involved a smaller sample size of 132 individuals from 25 groups.


    As the situation being alarming,we have to bear the burns of terror strike anywhere  anytimeI Paris is not the last destination of terrorism,I am afraid.Islamic State owns the responsibility of Paris Tragedy at the moment as media claims and French President virtually announced yet another global war against terror endorsed by Indian political leadership.


    The most vocal scenario:ISIS has claimed responsibility for the multiple attacks in Paris on Friday that left at least 127 people dead and another 200 wounded. The coordinated shootings and bomb attacks occurred in an estimated seven locations, including outside the Stade de France stadium and the popular Bataclan Concert Hall.


    Just one day after a series of deadly attacks on the capital city of Paris, France, French authorities released the official death toll at a press conference. According to police, 129 were killed across multiple locations, and an additional 352 were injured. Police also stated that at least 89 of those fatalities occurred during a hostage standoff at Bataclan concert hall in central Paris. Three terrorists were also killed, two detonating suicide bombs and one having been shot down by police.

    As of Saturday evening local time, 99 of those injured were still in critical condition, Paris prosecutor Francois Molins told reporters. Authorities also confirmed that 70 of the victims were Americans. As the prosecutor began detailing the timeline of events, details about the attackers began to emerge.


    French President François Hollande on Saturday declared thatt he country would pursue and attack ISIS 'without mercy," declaring that the attacks were "an act of war that was prepared, organized, planned from abroad with internal help." Hollande has declared three days of mourning in France.

    Understood that thousands of missiles to fly violating the limit of the sky,warships to be launched in the oceans  and the oil would be on fire yet again!

    The sponsored terrorism to remap the Arab and Islamic world has the holiest places of Islamic worship a it target destination and we have to witness yet another CRUSADE!As the Islamic State,the Arabian Spring has got a Start up to destroy the Islam.Whose interest it should be.It is rather funny that the American War against terror has been Killing the Muslim worldwide and America launched the Mayhem Campaign and India is a proactive partner with United States of America and Israel and India becomes a Hindu Taliban State as consequence and we are subjected to that bloddy Arab Spring to destroy the Bharat Tirth!

    It appears that the majority of those killed were in the concert hall, where approximately 100 people were taken hostage before French police stormed the building.

    On Saturday, Parisians waited in long lines at blood donation centers and hospitals across the city, eager to contribute something to the stricketn city. Even as the tragic news continues to develop, people around the globe have taken to social media to express their horror and sympathies with those affected. Parisians have turned to twitter, using the #portesouvertes hashtag to offer shelter to those stranded in the city or simply looking for a safe place to spend the night.



    I am amused to see the continuous photobombing killing the vocal scenario and inherent musicality,the folk rhythm and aesthetics of social realism,truth itself along with the five senses of love with which we have to be embedded,the HTML of humanity and love inflicted by hate,violence and terror which happen to be calamities imported really with all those nuclear armament to destroy ourselves.The political world wide tour to sustain the caste economics all on the name of Hindutva and the gimmicks showcased so often with solo performance reminding caricature amuses me as I have to become the Prime Minister of India if I have any aspiration to tour the world to generate selfies which would make me yet another God.Funny!


    I would be reading the preface written by no less than the most intelligent personality Indian ever could produce,Rahul Sankratyan from his History of Central India in Hindi.As modern genetic studies proved his concept of Bharat Tirth.

    Indian Express reports:

    Paris 13/11 has Mumbai echoes

    The Islamic State group on Saturday claimed responsibility for a wave of attacks in Paris that killed 129 people and said France would remain at the "top of the list" of its targets. The violence started at the Bataclan concert hall where at least 100 hostages were found dead. French President Francois Hollande has formally declared a state of emergency on all mainland territory and Corsica during a Cabinet meeting urgently summoned at the Elysee palace on Friday night.Obama to visit Paris after G20 meetHigh alert sounded in MumbaiGurdwaras in France keep doors openBelgian police arrest severalPictures from the ground in ParisHere is what happened in Paris

    http://indianexpress.com/



    I would be discussing and later would explain it in Hindi,the most relevant article published in Sunday Economic Times as follows:

    Nov 15 2015 : The Economic Times (Kolkata)

    Caste Away

    :: KP Narayana Kumar


    

    

    Against the backdrop of a Bihar election that was heavily polarised on caste lines, a genetics study that suggests ancient India had no such social stratification assumes added significance

    DNA is not the kind of word that usu ally makes its way into an Indian election. So in a country where caste identities and religion play the dominant role in the election narra tive, a reference to the jargon from genetics during the election cam paign in Bihar was intriguing.

    It started with prime minister Narendra Modi's comment on Nit ish Kumar wondering about a pos sible defect in the chief minister's DNA. Kumar's supporters respond ed by sending over 1 lakh hair and nail samples to the Prime Minister's Office (PMO).

    The political parties may not have realised it but, in recent times, genet ics has had something to say about the operating software of contemporary politics: the caste system.

    A 2013 study has offered a definitive picture on the origins of caste in the Indian society. The findings of a team of researchers from the Harvard Medical School and the Centre for Cellular and Molecular Biology (CCMB) have significant relevance when looking for a deeper reading of the Bihar poll results.

    The study which involved mapping the genomes of 571 individuals from 73 ethno-linguistic groups establishes that ancient India was one in which all people intermingled freely. The study had improved upon its 2009 findings which involved a smaller sample size of 132 individuals from 25 groups.

    Given that modern-day politics are governed by caste dynamics, read together with the findings of the DNA study, the Bihar results also appear to be an expression of anger at an artificial system imposed upon generations of people that encouraged inequality and supressed them for 2,000 years.

    After all, no one has ever offered a credible explanation for why some people were to perform lesser duties such as scavenging in a world that revolved around the internet.

    Caste is so deeply ingrained in society that it is often taken for tradition. For years, although historians could narrate the manner in which exploitation happened through the caste narrative, they could not give a credible theory on the origins.

    Sum of Caste Arithmetic

    Most political observers agree that the day Nitish Kumar and Lalu Prasad decided to come together, the Bhartiya Janata Party (BJP) was in for a significant challenge, given the caste arithmetic.

    And that was exactly how the election played out with the BJP managing to touch 58 seats, while the Mahagathbandhan, or the Grand Alliance comprising Janata Dal (United), Rashtriya Janata Dal and Congress marched home with 178.

    According to Sanjay Kumar, director of Lokniti, a research pro gramme of the Centre for the Study of Developing Societies (CSDS), it was quite apparent that caste insecurities are still in place in Bihar and have contributed to the victory of the Grand Alliance.

    "The OBCs and Dalits feared that if BJP came to power they would go back to (the upper-caste oppression of ) the '80s. They are not totally happy in terms of jobs and economic growth. But they did win their self-respect which they feared would be trampled upon if BJP were to win," he said.

    The paper published by the genetic research team clearly states that this part of the world did not practise any form of segregation prior to 2,000 years. According to the study, there were absolutely no constraints on any sort of cohabitation to the extent that there was constant genetic crossing until a period when, all of a sudden, we see evidence of endogamy with no further evidence of intermingling.

    Stranglehold of the System

    According to the paper, there were two distinct genetic groups in India: the Ancient North Indian and the Ancient South Indian. They lived in isolation until they crossed paths about 4,000 years ago. They intermingled for 2,000 years and thereafter the societies here began to practice endogamy. Since then there has been little intermingling, suggesting the stranglehold of the caste system.

    For centuries, the fact that caste had taken the venerated place of tradition meant that India did not have a construct on the origins that was egalitarian.

    Scientists who worked on the project say that modern-day castes were borne of the segregation practices consciously adopted by what were tribal societies.

    "Castes grew out of tribal-like organisations during the formation of Indian society," explains Kumarasamy Thangaraj, a scientist at CCMB. According to Thangaraj this was conclusive evidence that pointed towards the fact that prior to 2,000 years, India did not practice endogamy, the practice of marrying within a specific group.

    In the absence of definite scientifically proven ideas about the origins, most debates on ancient history have to deal with a Manusmriti, which states that people belonging to certain castes were lesser beings as were women.

    If those are the kind of ideas that laid the foundations, where could Independent India look to in the past for guidance for its egalitarian ideals? There is ample evidence that the brutal system of caste exploitation continues to find a place in Independent India with the most recent killing of a Dalit family in Haryana being the latest manifestation.

    BR Ambedkar had lamented that the fight for Independence did not adequately address the inequities brought about by caste in an essay titled "Annihilation of Caste".

    An Answer to the Caste Construct

    That Bihar had to deal with caste violence in the '80s and that Lalu Prasad emerged as a champion of social justice was perhaps the beginning of an answer to the caste construct that has governed life in India for centuries. The 2015 assembly election in that state has possibly amplified that expression of anger.

    Given that history by itself was unable to give a definitive picture of the existence of an egalitarian society in the past, it was only 60 years after Independence that genetics was to offer a clear construct. And even as genetic science was offering clues about the real ancient India, on the ground in Bihar, those who had suf fered at the hands of what has now been established to be an artificial construct appeared to have joined hands. It was almost as if Bihar had expressed its centuries old caste-angst at one go.

    "Instead of religious polarisation, this election showed the sharpest polarisation in terms of caste. Normally caste polarisation is associated with Dalits and OBCs. This time there was also a huge consolidation of the upper-caste vote with BJP," observed Sanjay Kumar. He added that RSS chief Mohan Bhagwat's statement on reservations would also have played a factor in sharpening the divide.

    The emergence of the cow campaign in the last leg of the BJP campaign also turned the election into a test-case for whether all castes agreed with the idea of cow protection being the core issue around which Bihar would vote.

    Sanjay Kumar says the defeat of the BJP does not essentially mean that cow was not an issue for the Bihar voter. But there are other issues which are more important, of which caste insecurities figure on top. In short, even if the cow campaign could have some resonance in the state, it could not figure over the anxiety among the lower castes of the probability of a return to a society that would dominated by the upper castes.

    Historian DN Jha who authored the controversial book The Myth of the Holy Cow however, says the election has proved that the cows simply cannot serve as the motif for all Hindus.

    "Historically cow veneration is a part of upper-caste ideology. The question the BJP needs to answer is whether they consider Dalits to be Hindus. Dalits eat beef and so do tribals in many parts of India. (A research project titled) `People of India Project' has conclusively shown that 72 communities in Kerala eat beef and many of them are Hindu. BJP has a Brahminical notion of culture which is not in sync with ground realities of Indian culture," he says.

    Jha says that his research also supports the theory of an ancient culture that allowed free intermingling. "You do not need genetics to prove there was intermingling in India. The Rig Veda alone has 300 non-Sanskritic words. How did they creep in? Because there was intermingling of people." According to Jha, although genetic science could make definitive contributions to history, it needs to improve upon the sample sizes in order to be regarded as credible sources.

    The question of identity in India, adds Jha, was answered through a perverted prism. "The politics has always mislead people on the `who are we' question. They made caste the reference point to get votes although it is not very relevant (to the essence of the question)."

    ET magazine VIEW

    WANTED: AN ALTERNATIVE NARRATIVE TO CASTE

    Caste is an idea that branded humans untouchables and built walls. Independent India inherited this system that perpetuates inequality. For centuries, caste has been blindly referred to in terms of tradition.India does not have a credible theory on its origins that lays down the foundation of the society on egalitarian lines, which its Constitution certainly promises to every citizen. That genetics has found evidence of an ancient free society needs to be taken seriously and studied further. India cannot afford to say that the operating software of electoral politics always will remain caste -because we have no other narrative. India needs to explore this new perspective on the origins of society better, which could also help create new narratives in the political discourse because, for sure -as the Bihar polls proved -it will be difficult to find the kind of patience that the previous generations displayed in accepting the tag of a "lower caste".









    

    http://epaperbeta.timesofindia.com/Article.aspx?eid=31817&articlexml=Caste-Away-15112015020005





    5 Hours of Terror


    source media News

    

    

    FRIDAY, NOVEMBER 13, 2015

    9:15 PM Hollande is at the Stade de France, watching a match between France and Germany when an explosion is heard; minutes later another explosion is heard; Hollande goes into the stadium's security room for a crisis meeting with police

    9:20 PM Shots are fired at people sitting at outdoor tables of two restaurants on rue Alibert in the 10th arrondissement

    9:32 PM Shots are fired at Casa Nostra, a pizza place on rue de la Fontaine au Roi in the 11th arrondissement

    9:36 PM Shootings are heard at La Belle Equipe bar on rue de Charonne

    9:43 PM A suicide bombing at a cafe called Comptoir Voltaire on Boulevard Voltaire leaves one person dead

    9:45 PM Attackers fire the first shots at Bataclan, packed with people attending a concert by the California band Eagles of Death Metal; the theatre is a seven-minute walk from the offices of Charlie Hebdo

    9:50 PM Suicide bomber blows up outside a McDonald's restaurant near the Stade de France. No one is hurt

    10:25 -11:30 PM Hollande holds a crisis meeting at the interior ministry

    11:30 PM Most Paris metro stations near the shootings are closed

    11:58 PM Hollande addresses the nation and declares emergency for the first time since 2005; announces a closure of borders

    MIDNIGHT A Cabinet meeting is held

    SATURDAY, NOVEMBER 14

    00:15 AM Five Paris metro lines closed

    00:45 AM Cabinet meeting ends.Security heightened in the Paris region

    00:45 AM French police launch an assault at Bataclan; hostage situation ends

    1:10 AM Hollande, PM Manuel Valls, interior minister Bernard Cazeneuve and justice minister Christiane Taubira visit the Bataclan area

    1:00-2:00 AM The street outside the theatre is the image of a war zone as people trickle out, the injured carried out on stretchers, and bodies covered in white shrouds are lined up; police say eight militants died, seven of them in suicide bombings



    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0
  • 11/15/15--08:27: ढेरो पादो मत!फिजां बजरंगी!पादेकै इजाजत नइखै! जीभ संभालके रहियो और तनिको डरियो कि जीभ की भी सुपारी चालू आहे।शांतता।सहिष्णुता चालू आहे! सारा खेल सहिष्णुता की बिगाड़ दिहिस जो ससुरे,हम सोचे रहे।त एफडीआई बाबा ई वखत अंकारा इसंतांबुल मा ना जानै का का गुल खिलावैके चाहि।पण हियां तो सफेद लालो गुलाब सभै लहुलुहान। लिखना विखना बंद करै तो खाल बच जाई का? https://youtu.be/NbUVTHAib3M Study of 73 ethno-linguistic groups establishes that ancient India was one in which all people intermingled freely! India is inflicted with Mandal Kamandal Civil war just because of an artificial system Manusmriti imposed upon generations of people that encouraged inequality and supressed them for 2,000 years. पलाश विश्वास

  • ढेरो पादो मत!फिजां बजरंगी!पादेकै इजाजत नइखै!



    जीभ संभालके रहियो और तनिको डरियो कि जीभ की भी सुपारी चालू आहे।शांतता।सहिष्णुता चालू आहे!


    सारा खेल सहिष्णुता की बिगाड़ दिहिस जो ससुरे,हम सोचे रहे।त एफडीआई बाबा ई वखत अंकारा इसंतांबुल मा ना जानै का का गुल खिलावैके चाहि।पण हियां तो सफेद लालो गुलाब सभै लहुलुहान।


    लिखना विखना बंद करै तो खाल बच जाई का?


    https://youtu.be/NbUVTHAib3M


    Study of 73 ethno-linguistic groups establishes that ancient India was one in which all people intermingled freely!

    India is inflicted with Mandal Kamandal Civil war just because of an artificial system Manusmriti imposed upon generations of people that encouraged inequality and supressed them for 2,000 years.

    पलाश विश्वास

    खबर अभी वायरल हुआ नहीं है कि जीभ संभालके रहियो और तनिको डरियो कि जीभ की भी सुपारी चालू आहे।शांतता।सहिष्णुता चालू आहे!भइये,हमारी जुबान तो बेलगाम ठैरा,सविता बाबू 33 साल से लगाम लेकर पीछे पीछे दौड़ रही हैं।


    परवचन मा आवाज तनिको तेज हो जाई तो खटाक से दरवाजे से मुंडी घुसेड़के गोला दागे रहिस आहिस्ते आहिस्ते।अब न परवचन परतिबंधित हो जाई।घरे मा सेंसर हो जाने का अबहुं बड़का खतरा।डीलीट डीएक्टिवेट तो करै रहे।


    विज्ञापन ससुरे इसीलिए लगाने से परहेज करते हैं कि ससुरा लगाम लगायेके,हिजाब से चेहरा ढांपने के या जाब लगाइके चलने फिरने की आदत नहीं।


    थोड़ा कबीर दास बन जाने का भी शौक चर्राता है कभी कभार और भरे बाजार विशुध देसी भाखा में हमारी जुबान लहलहाती है।लचकै भी आउर बहकै भी।शुध हो कि अशुध दूसरों की बोली में भी बोलने चालने की आदत खराब है।भाषा दंगाइयों से अब तक बचे हुए थे।


    हम तो निशचिंतो हो गये ठैरे कि खास लंदन में,हमारे मालिकान के खास अंदर महल में नेपालियों की आर्थिक नाकेबंदी के विरोध,सिखों के उचाले मारते रिसते जख्म और गुजरात नरसंहार के बाबत कैपियत तलब और कमसकम दो सौ लेखक के आयं बायं बकते रहने,विपक्ष के सांसदों की ओर से मानवाधिकार वगैरह सवाल खड़े होने के बावजूद एको दुई नाहीं,नौ नौ बिलियन डालर पौंड का मानून तमिलनाडु के बेमौसम मानसून को हराय दिहिस।


    मौनी बिररिंची बाबा के बोल फूटेला।य खोसला का घोसला भी न दीखे हो कि एक्टर डाइरेक्टर के फ्रेम से बाहर निकलरके राजपथ पर महिला का चीरहरण कर दे और डिरेक्टर बाबू मोशाय पहिले से एवार्डो लौटायके देशदोरहियों की पांत मा शामिल हुई गयो।


    बजरंगी हनुमान ससुरा भगवान भी होवे हो,फिल्म बजरंगी भाईजान ने हिंदुस्तान पाकिस्तान एको कर दिहिस के पाकिस्तानी भी बोले जय शश्री राम।


    त हनुमान जी कै उछलोकूद,मंकी बात पर न जइयो जैसे नदी नारे न जइयो,ससुरी या जहरीली विषकनिया या फेर बिकी गयो।


    हनुमान जी बिकायो नइखे।भगवान अलगे ठैरे तो उनर करतब मजेदार खूबै भावेला हमका,ताली हमउ पीटत रहे।


    बसशेश्वर बाबा के लिंगायत आंदोलन का जलवा मार टीपू मार है तो जाहिरेे कि बसशे्वर बाबा भी अवतर हुई गयो जइसन हरिचांद ठाकुर मैछिल बामहण बाड़न।


    उ त अंबेडकर बाबासाहेब भी हिंदुत्व को मजबूत करै रहै और इसी खातिर सारे के सारे दलित रामो हनुमान भयो।बाबासाहेब का इसमारक का भी उदघाटन हुई गयो।


    कुल शिकायत यहींच कि असल अनुयायी या फेर असल मसीहा को न्यौता भेजा के नको नको।नको।


    फिन कैमरन भइया के साथ शाकाहारी छत्तीस व्यंजन और 10 डाउनिंग पर बावलोके अननंतर महारानी कै पैलेस मा भी जलवा बहार रही।विनिवेश एफडीआई से लेकर आतंकवाद के किलाफों जुध का शुध हिंदुत्व वसंत बहार हो गयो।


    सो बिरंची बाबा,अबहुं तुर्की मा जलवा बिखेरे रहिस तो हनुमान जी को भी जी मिचलावै कि तनिको उछल कूद आउर मंकी सनकी बाते हुआ चाहे जइसन हमउ हउ चाहे।


    त लंदन मा टाइटैनिक बाबा दाग दिहिस गौतम बुध आउर गान्ही बाबा के बोल पंचशील वगैरह वगैरह कि असहिष्णुता हुई तो बरदशत नाहीं।हमउ निशचिंतो  हो गये ठैरे।अब ई का?


    मोदी को तालिबानी कहने वाले ब्रिटिश लेखक की जीभ काटने वाले को 21 लाख का इनाम देगा उग्र कट्टरपंथी हिंदू क्रांति दल!

    सुबो सुबो फेसबुक वालवा पर अपने बनारसी उज्ज्वल बाबा टांक दियो कि शर अनीश कपूर की जीभ की सुपारी 21 लाख की हो गयो रे।सवेरे सवेरे परवचन दागके थको गयो हो।


    अंग्रेजीमा जो पाद दिहिसत पादे दिहिस के 73 लिंगो एथनिक ग्रुपवा के जिनेटिक डीएनए सर्वे से प्रूव हुई गयो की बुद्धमय भारत के अवसान से पहिले उ जो नोबेलिया कवि ह,जेकर राष्ट्रद्रोही भगवा तमगा खातिर मन हमार उचाट रहे के उ कवि भी अछूतो रहे।


    जात से तड़ीपार पिराली बामहण।इस पर तुर्रा ई कि पिता देवेनदर नाथ ठाकुर बरहममो रहे जो म्लेच्छ बाड़न।


    तनिको शरत बाबू के नावेल जो चाहे सो उठाय लेव,देखो गौर से कोनो बरहममो बामण ना बाड़न।कहत रहे भगवा बिरादरी कि राष्ट्रगान उनर,जनगणमन जार्ज पंचम की तारीफ ह।


    त उनर भारत तीर्थ का रिसाइटो बांग्ला आउर अंग्रेजी मा,पेरिस से ठेठ फ्रेंच अपडेट आुर एको दुई नइखे ,पेरिसमा खेत रहे सत्तर सत्तर अमेरिकी नागरिकों के ग्रीकङादसा अननंतर ओबामा भाया की सिंहगर्जना भी दाग दियो।


    महापंडित राहुल सांकृत्यायन के मध्य एशिया की बारतीयजड़ों को भी खंगाल लियो।


    अब ई रपच भगवा बिरगेड रचि राखा कोई पुराण स्मृति वगैरह नइखै ।शोध ह शुध।अमेरिका से हावार्ड यूनिवर्सिटी के अलावा मलिकुलर बायोलाजी के सैंपल सर्वे का रिजल्ट रहे।


    इलेक्शन रिजल्ट नइखे।


    हमउ फेर मा के डीएनए सचमुचो एकच रहे।

    मनुस्मृति से पहिले बुद्धमय भारत तलक के लड़ भिड़कर सारी नस्लों का विलय भारत तीरथ हुई रहे।सो भारत तीर्थ दागे रहिस।


    फिर हम सोचे रहे,बेकारो हनुमानजी कै उछलकूद शेयरबाजारी मुक्तबाजारी की हम आलोतना करै रहै।


    फिन सोचे रहै कि तनिको भारतवासी एइसन किरपा हमउ पर कर दिहिस के हमउ परधानमंत्री उंत्री बन जाई तो झोला टांगे हुलस हुलस कर गिरदा दगाड़ गाड़ गधेर नदी नाला झील घाटी शिखरों शिखर जो उछले रहे आउर बापकी विरासत ढोये कहीं भी कबहुं जायेके रहै लेकिन सरहद बाप की तरह बिन वीसा बिन पासपोर्ट लांघेके करेजा नइखे, त जइसन ई विदेशोविदेश राजकाज दागे ह,उसी तर्ज पर हमका परधानमंत्री बना दिहिस तो देस परजटन छोड़ हमउ एनआररआई हो जाई!


    देश को एनआरआई परधानमंत्री मिलेला!


    बाकीर सगरे हिंदुस्तानमा रामराज ह!


    लंदन मा झूठ के बोले सकै!


    फिन पेरिस में जो मुंबई ब्लास्ट हुई रहे तो फिन तेल जुध की तैयारी बा, त मौनीबाबा बिरंची बाबा कनफर्म कर दिहिस के इंडिया अमेरिकवा के जुध मा पार्टनर ह।


    नौ बिलियन हियां लंदन से फटाक मिलेला त वाशिंगटन से डालरोडालर फलकतोड़ मिसाइल बरखा या के परमाणु धमाका हिंदुत्व के दुशमन जहां के खिलाफो।फिन वही हिंदुत्व तालिबान।


    हम मानेके चलेला कि बड़ सहिष्णुता भयो रामराज मा।

    हमउ मनेके चलेला कि साहित्यकार ससुरे ,फिल्मकार सगरे,वामपंथी इतिहासकार सारे,उलटखोपड़ी वैज्ञानिक आउर हियांतक के सरहद के लड़ाके पूर्व सैनिक सारे के सारे राजनीति पादै रहिस आउर असल देशभक्त तो उ ह जो देस देश घूमिकै घुमाइकै देश बेचे रहिस त तालियां ही तालियां!


    असहिष्णुता हमारे धर्म और परंपरा के खिलाफ बा।बाबासाहेब हिंदुत्व मजबूत करै रहिस तो वसशेश्वर बाबा से लेइके हमार तमामो पुरखे हिंदुत्व के सिपाहसालर हुए रहे।


    गउतम बुद्ध भी विष्मु अवतार बाड़न।


    आउर गान्ही बाबा तो मरे वखत भी हे राम कहे हो।


    खाली मुली परम देशभक्त गोडसे बाबा बदनाम हुई रहे।उकरमंदिर बी बनावेक चाहि सहिष्णुता की इस कयामती फिजां मा।


    अब हामरी तो सिट्टी पिट्टी गुमा गइल सोचे रहे लेखन वेखन बंद करैके चाहै के जान बची तो लाखों पावै आउर बजरंगी हुयो तो छप्परफाड़ दिवाली बिलेटेड।


    चुप्पी साधे लिन्हें कि इतिहास बनेके बनावेक के मउका बड़जोर ह।अपढ़ सगरे मंतरी सांसद विधायक परधान या पतिपरधान बनेके मजा खूब लूटेला।


    डालरो बहार।पौंडो बहार।येनो तेनो बहार।

    रुबल के भाव नइखे।


    एफडीआई बाबा की जै।

    बजरंगवली की जै।बिररिंची बाबा,टाइटेनिक बाबा की जै।


    सारा खेल सहिष्णुता की बिगाड़ दिहिस जो ससुरे,हम सोचे रहे।त एफडीआई बाबा ई वखत अंकारा इसंतांबुल मा ना जानै का का गुल खिलावैके चाहि।पण हियां तो सफेद लालो गुलाब सभै लहुलुहान।


    लिखना विखना बंद करै तो खाल बच जाई का?


    हरिद्वारेस खबर ह।राष्ट्रीय हिंदू क्रांति दल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तालिबानी एवं भगवान विष्णु के बारे में अपमानित शब्दों में लेख लिखने वाले भारतीय मूल एवं ब्रिटिश लेखक अनीश कपूर की जीभ काटकर लाने वाले को 21 लाख रुपए इनाम देने की घोषणा की है।शनिवार को हरिद्वार स्थित प्रेसक्लब में आयोजित प्रेसवार्ता में राष्ट्रीय हिंदू क्रांति दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजीव चौधरी ने कहा कि यह देश की सवा अरब आबादी का अपमान है। उन्होंने सभी राजनीतिक दलों से इस आपत्तिजनक टिप्पणी के विरोध में एकजुट होने की अपील की।संजीव चौधरी ने कहा कि लेखक अनीश कपूर ने देश की छवि, आस्था और प्रधानमंत्री का अपमान किया है। ऐसी बयानबाजी पर रोक लगानी चाहिए।कहा जब से प्रधानमंत्री ने कुर्सी संभाली है तभी से राष्ट्र विरोधी ताकतें देश में अंदर और बाहर विश्वमंच पर देश की छवि खराब करने की कोशिश कर रही हैं। मौके पर अनिल चौहान, आशु, रवि, अवतार, पवन कुमार, तेजप्रकाश शाहू आदि मौजूद रहे।


    भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं उत्तराखंड राज्य निर्माण आंदोलनकारी सम्मान परिषद के पूर्व अध्यक्ष रवींद्र जुगरान ने मुख्य सचिव की पुनर्नियुक्ति से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भेजा है।पत्र में जुगरान ने कहा है कि मुख्य सचिव राकेश शर्मा की पुनर्नियुक्ति कर राज्य सरकार ने संवैधानिक संकट खड़ा कर दिया है। उन्होंने कहा कि इससे राज्य के अन्य योग्य ईमानदार अफसर अपने को ठगा महसूस कर रहे हैं।इससे भविष्य में राज्य में गलत परंपरा बन जाएगी। जुगरान ने प्रधानमंत्री से तत्काल इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए समाधान का अनुरोध किया है।


    --
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!

    0 0

    Nagaland Editors' statement on free press following Assam Rifles notification


    -- On October 25 2015, Editors of five Nagaland-based media houses were issued a notification by a Colonel of the General Staff for Assam Rifles. Given the gravity of the matters raised in the notification we, the Editors of various English and Indigenous language newspapers of Nagaland have taken the communication as an opportunity to reflect, consult and critically examine what our role is in these circumstances. 
     
    It is our understanding that the General Staff for Assam Rifles is concerned about three critical issues: (a) that through our reporting of press statements by NSCN-K, we have, in effect, intentionally or unintentionally supported unlawful association; (b) we have violated the Unlawful Activities (Prevention) Act of 1967; and (c) by publishing statements by banned organizations, we are, ipso facto, complicit in the organizations' illegal activities. These are serious charges indeed that merit a response from the Nagaland-based media and the wider media fraternity. 
     
    In the following paragraphs, we respectfully describe our role as media organizations functioning in an environment of conflict where the search for peace and justice is a critical component of our collective vision and mission in Nagaland.
     
    1. As Editors, our reporting has always been guided by a free, fair, forthright, sensitive and unbiased approach as we work both within the backdrop of Naga history and our current reality. Such an approach to journalism ensures that reporting is impartial and inclusive to the fullest extent, provides opportunities for constructive engagement and, where possible, promotes healthy debates and dialogues on the difficult issues and challenges that Nagaland faces. Pursuant to this mission, we, the Editors and Journalists, are always open to critical feedback that can help improve our media practice.
     
    1. When we have reported news by, or from, banned organizations, we have done so in the spirit of transparency, inclusivity and fairness so that the surfacing divergent opinions can promote dialogue and constructive engagement among diverse groups in Nagaland. History shows that at no point has the spirit or letter of our publications intentionally sought to support a banned organization or to incite and promote violence, or was biased in nature.
     
    1. It is within this context that the Editors are concerned by the suggestion that in our reporting we, in effect, support unlawful association and are complicit in illegal activities. Is this an attempt to censor, weaken and ultimately silence the role of the media in Nagaland? We believe that the Assam Rifles shares our vision that the citizens of Nagaland have the basic and inalienable right to be informed, to listen to all voices on matters that affect their daily lives, and to make informed decisions pursuant to the dream we all share of a Nagaland that is thriving, peaceful and democratic.
     
    1. Further, by implying that the Nagaland-based media is supporting a particular banned organization, the Assam Rifles is, ipso facto, jeopardizing the personal safety and well being of the Editors and the media fraternity in Nagaland. We want to believe that this is not the spirit or intent of the notification letter dated October 25, 2015.
     
    1. We wish to reiterate that the notification needs to be viewed within the context of the long standing Indo-Naga issue, which historians and scholars have noted is one of the oldest political conflicts in the world. We fully appreciate the historical reality within which we live and work that has many forces as the pursuit of peace and justice has involved multiple actors and stakeholders who have their share of competing interests and positions as well. 
     
    1. However, the media in Nagaland has remained non-partisan, impartial and independent by upholding indigenous and internationally accepted values of non-violence, democracy and peace. With the print media being the primary means of mass-communication in Nagaland, we have carefully and diligently ensured that the editorial process – individually and collectively – acts responsibly, without prejudice, and is guided by universally recognized standards and ethical norms of journalism. We seek to make critical editorial decisions in ways that encourage healthy, peaceful and constructive engagement. 
     
    It is in this spirit that on this occasion of the National Press Day, which is commemorated on November 16 of every year, we, the Editors of various English and Indigenous language newspapers in Nagaland, take this opportunity to reflect and assert our role as an independent and responsible free press, and to affirm our commitment as the fourth pillar of democracy. We remain open to critical feedback, and believe that the free flow of information and ideas is essential for contributing to mutual understanding and peace in Nagaland. 
     
    Hence, as proponents of the free press supporting our commitment to the right to freedom of speech and expression, peace, democracy and economic empowerment, we shall:
     
    (a)  remain impartial and non-partisan while exercising our editorial independence that is free from all influences by State, Non-State and Corporate entities; 
    (b)  continue to create and provide responsible and healthy spaces and opportunities that are open to diverse viewpoints in a sincere and sensitive manner without infringing on the news quality or the potential for constructive engagement;
    (c)   continue to uphold and safeguard values and practices of non-violence, democracy, liberty, inclusivity and peace; 
    (d)  continue to practice universally acceptable standards and ethics of journalism, in particular peace journalism, while upholding the right to freedom of speech and expression; 
    (e)  continue to exercise the right of free press – which also includes the right to freely gather and distribute news,  information and ideas without restrictions; and
    (f)    continue reporting events ethically with transparency, accountability and objectivity by verifying and authenticating our sources of information while respecting the principle of confidentiality.
     
    As Nagaland-based media houses, we hold ourselves responsible to the Press Council of . Furthermore, in order for the media in Nagaland to uphold democratic values, protect the right to a free press, and to creatively examine our role in the complex and challenging situation in Nagaland, we are open to meeting and exploring with democratically elected members of the  of Nagaland on issues that would enhance an environment where the media can function freely and where any issues that any party might object to – like the notification from Assam Rifles – can be addressed in a peaceful and constructive way.
     
    Finally, by no means should this joint statement be misconstrued as a tacit support, or against any group in Nagaland.
     
     
    Monalisa Changkija               Geoffery Yaden                       Witoubou Newmai 
    Editor                                    Editor                                     Editor Nagaland Page                     Nagaland Post                         Eastern Mirror
     
     
     
     
    K. Temjen Jamir                    M. Kire                               Dr. Aküm Longchari 
    Editor                                    Editor                                                Editor 
    Tir Yimyim                          Capi                                 The Morung Express
     
     
     
     
    Dated: November 15, 2015
    Pl see my blogs;


    Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!



    https://youtu.be/_di7cDgf8Bw

    CRY Humanity! CRY!CRY!

    We dare not cry Freedom as Slaves we are!

    #Paris mourns#Chhath #Come Mayawati #!Humanity dragged into Bermuda triangle #War again #India Proactive!

    The Class Caste ruling Hegemony lost credit and it also lost the mandate and it badly wants yet another KARGIL War to invoke blind nationalism.Thus,India is a proactive partner in American war against Terror to invoke full bloom Islamophobia and it would be  the Global Kargil to accomplish the Hindu Globe agenda!

    लिखना विखना बंद करै तो खाल बच जाई का?


    https://youtu.be/NbUVTHAib3M


    Study of 73 ethno-linguistic groups establishes that ancient India was one in which all people intermingled freely!

    India is inflicted with Mandal Kamandal Civil war just because of an artificial system Manusmriti imposed upon generations of people that encouraged inequality and supressed them for 2,000 years.

    Voltaire Biography Documentary
    https://www.youtube.com/watch?v=fYfQaiNsVZM

    Palash Biswas

    The Bermuda Triangle trailer official trailer
    https://www.youtube.com/watch?v=fgZWIJP87V8


    FDI Blast on Diwali eve had been a trailor to every sector contrary to Terror struck vocal scenario that  Paris opened every door and window to give shelter and food for suffering humanity as poetry becomes mourning,paintings bleed and white roses killed!

    Reform Film is a longer one to enact Greek Tragedy in India with destination of complete privatization, complete disinvestment to kill equality ,justice and tolerance.One blood Indian Humanity!

    War declared yet again and India takes over United Kingdom!Birinchi Baba FDI Baba replaced Blair of the oil war and India is proactive!


    Grand Alliance Possible for Uttar Pradesh Polls, Says Akhilesh Yadav! Come mayawati!Respond to make History!Lead India!As Dalits Protested against Misuse of Babasaheb and his memorial in London as the Dalit writer from Kuvempunagara, Mysooru, Karnataka, Devanooru Mahadeva returned Sahitya Academy Award and Padmshri to voice the conscience of Humanity against the racist intolerance!



    Chhat Maia ki jai! Chhath Puja is performed without discrimination,without rituals,without priest! It is the worship of Female Personified SUN God,the source of light and enlightenment as we have landed in an era of DARKNESS.Let the Sun unleash all of its solar storm to destroy the hegemony of darkness!


    We,Indian people own similar genetics and so many streams of humanity,different races merged in the Bharat Tirth and we remained on until the demise of buddhist India!Chhath Puja is an opportunity to look into Ancient India where we happened on blood and had no identity whatsoever and worshipped only the Nature!


    Thanks You Tube.I have included the clippings from the biopic on Voltaire to understand Paris,France and the history of Europe and Les Miserables.Included the official trailer of the film,Bermuda Triangle, a documentary on Bermuda Triangle.Bhojpuri Songs on Chhath Puja included and also had the clippings of Paris in mourning with G 20 summit and analysed the phenomenon of humanity,freedom and universal brotherhood endangered.Cry Humanity! Cry!




    #Chhat #Come Mayawat#!Humanity dragged into Bermuda triangle#War again#India Proactive!


    Devanooru Mahadeva lodged his protes against intolerance and returned Sahitya Academy award as well as Padmshri!His declaration letter as follows:


    To,


    The Editor,


    .........................................................


    From,


    Devanooru Mahadeva


    TH Cross, Navilu Road,


    53, 11


    Kuvempunagara, Mysooru, Karnataka.


    I have always believed that for every government to remain sensitive and society­oriented,


    writers, artists and intellectuals should act like the restraining bridle. However, much against my


    nature, I have controlled myself from reacting in the present context of 'returning awards against


    intolerance'. But when some writers and artists organised themselves in support of the ruling


    government, I felt it was a sure sign of evil. Disgusted by this development, I am now returning the


    Central Sahitya Akademi award and the Padmashri award. Returning them now, I know, is only


    symbolic in a way. I feel awkward that I am not able to return the position and prestige I may have


    obtained indirectly through these awards.


    The dreams nurtured by our freedom struggle – freedom of expression, tolerance and


    social justice – have somehow dwindled after the Nehru era and are now in jeopardy. Those


    values may not be tangible or materially visible, but they are like the very breath of the cultural,


    social India we need to build. The lack of this awareness appears to be the reason for today's


    intolerance. Otherwise we would not have witnessed the tragedy of the leaders of the central


    government themselves saying that incidents like that of Dadri and killings caused by ideological


    differences are the problems of the respective states. Similarly, the central law minister, who


    should at least know that the returning of awards by intellectuals is an expression of non co-

    operation in protest against social and cultural intolerance, would not have made the self-

    destructive comment that 'it is intellectual intolerance against Modi.' Instead, he should have


    accepted it as helpful for the ruling government to become more sensitive to such issues.


    Similarly again, the powerful Pejawar pontiff saying in ridicule 'would they remain silent if pork


    were to be cooked in front of a masjid" is also an example of the same state of mind. Who has to


    say that it is not proper for the mind of the pontiff of the Krishna Mata to be filled with masjid and


    pork? Such attitudes among those in power and the vested are knowingly or unknowingly


    provoking greater intolerance and violence in society.


    The group which is now indulging in violent excesses of intolerance is emboldened by the


    feeling that those whom it voted to power are now in the central government and that whatever


    misdeed it may commit it will escape by their blessings. Therefore the violent incidents of


    intolerance which used to take place in a clandestine manner are now happening in broad


    daylight. Never in the past had there been such a situation. Only if the central government


    introspects on this will it be able to provide governance.


    In this context, I remember a story I had read somewhere. When a powerful man from a


    community given to dacoity, extortion and violence defeats a weak king and becomes the ruler,


    the first thing he does is, instead of showing any concession for the dacoity and violence practised


    by his community, he suppresses the criminal activities, makes his people civilized citizens and


    thus becomes responsible for creating a healthy society. It appears as though history, having


    placed a huge challenge before our present prime minister, is watching him with a little smile on


    its face.


    In sum, this is a time for introspection and soul­searching for everyone. The following


    words of introspection spoken in his last days of power by General Musharraf can be a lesson to


    us: "Sayeed, Lakhwi were our heroes when they were fighting for the liberation of Kashmir. When


    religious fundamentalism began to mix with their struggle, it was transformed into terrorism. Now


    this terrorism is targeting our own people."


    History has been often been saying this loud and clear to us. There is also the saying of a


    Yogi that even God cannot save those who perpetrate murder, looting, hatred in the name of


    religion and God! I am returning the awards to remind ourselves of all this in the present situation.


    Mysore


    (Devanoora Mahadeva)


    14.11.2015


    Taking a cue from the massive victory of the Grand Alliance against BJP in Bihar, Uttar Pradesh Chief Minister Akhilesh Yadav today said such a tie-up was possible in the state where Assembly elections are due in early 2017.


    "A Grand Alliance is possible in the state," Mr Yadav told reporters when asked about possibility of such a coalition materialising in UP to take on BJP in 2017 assembly polls.


    The Chief Minister, however, did not elaborate.


    His remarks came a day after an Uttar Pradesh minister suggested a Grand Alliance involving ruling Samajwadi Party and Mayawati-led BSP for the upcoming assembly polls in the state similar to the one in Bihar where rivals RJD chief Lalu Prasad and JD(U) leader Nitish Kumar came together and decimated BJP.


    Like Bihar, BJP had swept Uttar Pradesh also in Lok Sabha election last year and the party is hoping that it will return to power in the politically crucial state after nearly 15 years.


    #!Humanity dragged into Bermuda triangle #War again #India Proactive!



    The Bermuda Triangle, also known as the Devil's Triangle, is a loosely defined region in the western part of the North Atlantic Ocean, where a number of aircraft and ships are said to have disappeared under mysterious circumstances!


    Meanwhile,invoking the Panchsheel principles, Nepalese Prime Minister KP Sharma Oli on Sunday called on India to "immediately lift the undeclared blockade" imposed on Nepal that would help boost bilateral ties amid the recent political crisis over the country's new Constitution.

    "Nepal wants to maintain relations with its neighbours on the basis of the principles of Panchsheel, Oli said. The Panchsheel doctrine is a set of principles to govern relations between states. Their first formal codification in treaty form was an agreement between China and India in 1954.



    Voltaire

    From Wikipedia, the free encyclopedia